[nainital] - फेक कॉल एप्स बनीं शरारती तत्वों का टाइमपास

  |   Nainitalnews

सावधान, अनचाही कॉल कहीं आफत न बन जाएसाइबर क्राइम में लगे हैं कई युवा, आप भी बरतें सावधानीभूपेश कन्नौजियाहल्द्वानी। क्या आप अनचाही कॉल से परेशान हैं...या आपके पास ऐसे नंबरों से कॉल आती है जिसे आप जानते भी नहीं... कुछ लोग आपको फोन कर आपके एटीएम कार्ड की जानकारी ले रहे हैं...यदि ऐसा है तो सावधान हो जाइए। इन दिनों अनजाने मोबाइल नंबरों से ऐसी ही कई कॉल आ रही हैं। खास बात यह है कि वहीं लोगों को भय है कि मोबाइल में दर्ज नंबरों की सूची के साथ छेड़छाड़ भी हो सकती है। अमूमन लोग यह कहते नजर आते हैं कि फलां विदेश के नंबर से फोन आ रहे हैं। लेकिन ऐसा नहीं है। युवाओं के कई ऐसे समूह हैं जो देश के ही एक कोने में बैठकर कहीं से भी आपको कॉल कर सकते हैं। यह एक गिरोह है जो लोगों को कस्टमर केयर या बैंक अधिकारी बताकर फोन करते हैं और आपका एटीएम कार्ड नंबर मांगने के बाद ओटीपी बताने की बात कहते हैं बस यही चूक भारी पड़ती है और आपके खाते से पैसे उड़ा लिए जाते हैं।ऐसा कैसे होता हैये कॉलें फर्जी भी हो सकती हैं। इन्हें आप के बगल में बैठा व्यक्ति भी कर सकता है। कुछ मोबाइल एप्स ऐसे हैं जिनके जरिये फेक कॉल की जा सकती है। इस कॉल को करने में आपका बैलेेंस नहीं कटता केवल डेटा पैक ही इस्तेमाल होता है वहीं सुनने वाले का डेटा ऑन हो या नहीं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।क्या करेंइन पर अंकुश लगना तो मुश्किल है पर फोन आने पर अपने बैंक, एटीएम पिन, ओटीपी आदि की जानकारी न दें। जितनी बार भी कॉल आए तो ऐसे नंबरों को ब्लॉक कर देना चाहिए। कोट ये कॉल दो तरह से की जा सकती है। एक तो लैपटॉप या कंप्यूटर से और दूसरा मोबाइल से। ऐसे मामले आने पर आप पुलिस की आईटी सेल में शिकायत कर सकते हैं। आरोपी को पकड़ा जा सकता है। यदि पुलिस सक्रियता दिखाए तो लैपटॉप या कंप्यूटर के आईपी एड्रेस से और मोबाइल के आइएमईआई नंबर को ट्रेस कर सकती है।मनीष चौधरी, आईटी एक्सपर्टयदि कोई मोबाइल से कॉल कर आपराधिक कृत्य करता है तो शिकायत मिलने पर पुलिस कार्रवाई करेगी। अनचाही कॉल के मामले में संदिग्ध नंबरों को खुद ब्लाक कर देना चाहिए। -जन्मेजय खंडूरी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/s42WjAAA

📲 Get Nainital News on Whatsapp 💬