[pratapgarh] - न डांट, न फटकार और हो गया सीएम का दौरा

  |   Pratapgarhnews

मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर अधिकारी जिस प्रकार सांसत में थे, उनके निरीक्षण के बाद वह उतना ही खुश नजर आए। दरअसल में मुख्यमंत्री के निरीक्षण में न तो किसी को डांट मिली और न ही फटकार। मुख्यमंत्री के चेहरे पर मंद-मंद मुस्कान अफसरों का हौसला बढ़ाती रही। विकास भवन में बैठक की बात छोड़ दी जाय, तो पूरे र्काक्रम में मुख्यमंत्री का रुख काफी दिखा।

ऐसा लगता है, कि मुख्यमंत्री बेल्हा आने के पहले ही यह फैसला कर लिए थे, कि किसी भी अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करना है। विकास भवन में कानून व्यवस्था और विकास कार्यो की समीक्षा करने पहुंचे योगी थोड़ा तल्ख तो अवश्य दिखे। मगर बाहर निकलते ही उनके चेहरे पर मंद-मंद मुस्कान देखने को मिली। विकास भवन की सीढ़ियों से नीचे उतरकर अपनी गाड़ी पर बैठने ही वाले थे, कि सामने खड़े मीडिया वालों के शोर बचाने पर आए और दो मिनट में अपनी बात रखने के बाद गाड़ी बैठ कर डाकबंगला के लिए पड़े। समीक्षा बैठक के बाद अस्पताल और गेहूं क्रय केंद्र निरीक्षण में भी योगी मंद-मंद मुस्काते रहे।

भगवा रंग का हाफ कुर्ता और लुंगी और हाथ में सुनहली घड़ी पहने हुए योगी जहां भी निरीक्षण करने जाते, ठीक से देखते और वहां मौजूद लोगों से जानकारी प्राप्त करते। योगी पूरे कार्यक्रम में कहीं भी अधिकारियों पर अपनी नाराजगी नहीं प्रकट की। अगर कोई विधायक किसी विभाग की शिकायत भी करता था, तो वह नजरअंदाज कर देते थे। दरअसल में जिला प्रशासन ने योगी के पसंद के मुताबिक सारी व्यवस्था कर रखी थी।

यहां तक कि भगवा तौलिया और हिमालयन पानी की भी व्यवस्था थी। विकास भवन में लगी कुर्सी पर भी भगवा तौलिया, सफारी की जिस सीट पर मुख्यमंत्री बैठे हुए थे, उस पर भगवा तौलिया, लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में जिस सोफे पर बैठे हुए थे, उस पर प्राय: सफेद तौलिया रहती है, मगर आज भगवा तौलिया लगी हुई थी। हालांकि मुख्यमंत्री के निरीक्षण के बाद अधिकारी खुश नजर आए। दरअसल में तैयारी का भरपूर नहीं होने के बावजूद सब कुछ ओके मिलने से विभागीय अधिकारी खुशी नहीं रोक पा रहे हैं।

ऐनवक्त पर बदला कार्यक्रम,कार से पहुंचे कंधईमधुपुर गांव

मुख्यमंत्री को हेलीकॉप्टर से कंधई मधुपुर गांव जाना था। पुलिस लाइन में खड़ा हेलीकॉप्टर शाम को उड़ना था, मगर प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की सड़क देखने के लिए मुख्यमंत्री कार से ही निकल पड़े। कोहंडौर-चंदौका मार्ग देखने के बाद सीएम सीधे कंधईमधुपुर गांव पहुंच गए। जहां चौपाल का आयोजन किया गया है। अब सुबह पुलिस लाइन से ही मुख्यमंत्री का हेलीकाप्टर सुल्तानपुर के लिए उडान भरेगा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8kR1FQAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬