[pratapgarh] - प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह को महिला सिपाही ने दिया धक्का, गिरते-गिरते बचीं

  |   Pratapgarhnews

जिले की प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह को लोनिवि डाकबंगले में प्रवेश करने से पहले सुरक्षाकर्मियों ने रोक दिया। तभी महिला सिपाही ने प्रभारी मंत्री को धक्का दे दिया। वह गिरते-गिरते बचीं। विकास भवन में मंत्री और विधायकों को जाने से रोक दिया गया था। इसे लेकर हंगामा होता रहा। प्रभारी मंत्री ने सीएम को मामले से अवगत कराया। इसके बाद जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक पैदल ही बाहर की ओर भागे। अफसरों के अनुनय विनय के बाद प्रभारी मंत्री वापस लौटीं।

विकास भवन में समीक्षा करने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लोनिवि डाकबंगले पर पहुंचे। सीएम भीतर चले गए। तभी कुछ भाजपा के नेता भी भीतर प्रवेश पा गए। इस बीच जिले की प्रभारी मंत्री स्वाती सिंह पहुंच गईं। वह भीतर जाने लगीं तो सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया। गेट पर तैनात कौशांबी की महिला सिपाही ने प्रभारी मंत्री को धक्का दे दिया। जिससे वह गिरने से बाल-बाल बचीं। इससे नाराज प्रभारी मंत्री वापस लौट पड़ी।

वह भाजयुमो जिलाध्यक्ष वरुण प्रताप सिंह के घर चली गईं। वहां से सीएम को फोन कर मामले से अवगत कराया। प्रभारी मंत्री के साथ हुई घटना पर सीएम ने नाराजगी जताई। जिसके बाद जिलाधिकारी शंभु कुमार और पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह पैदल ही प्रभारी मंत्री को मनाने भागे। अफसरों के अनुनय विनय के बाद प्रभारी मंत्री वापस लौटीं। अफसर उन्हें सीधे भीतर ले गए।

इसके पूर्व विकास भवन में सीएम के प्रवेश करने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने गेट पर कैबिनेट मंत्री मोती सिंह व विधायक को रोक लिया। जिसे लेकर समर्थक हंगामा करने लगे। अफसरों के हस्तक्षेप के बाद मंत्री और विधायक को भीतर जाने दिया गया। फिलहाल सुरक्षाकर्मियों के चलते प्रभारी मंत्री, कैबिनेट मंत्री और विधायकों को दिक्कत का सामना करना पड़ा।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/vP0oPwAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬