[sonebhadra] - चौना गांव में तालाब में नहीं पानी, परेशानी

  |   Sonebhadranews

बभनी ब्लाक के चौना गांव के कोरवा टोला में वर्ष 2010-11 में 24 लाख रुपये की लागत से बना आदर्श तालाब तीन साल बाद ही धराशाई हो गया। भीषण गर्मी में तालाब में पानी की कमी लोगों को अखर रही है। किसानों के खेतों की सिंचाई भी नहीं हो रही है। ग्रामीणों ने इस मामले की जांच की मांग की है। चौना गांव में जब आदर्श तालाब का निर्माण कराया गया तो सबसे अधिक खुशी किसानों को हुई थी। उन्हें उम्मीद थी कि इस तालाब के जरिए वे अपने खेतों की सिंचाई कर सकेंगे लेकिन तालाब बनने के तीन साल बाद ही टूट गया और उसमें धूल उड़ने लगी। प्रचंड गर्मी के मौसम में इस तालाब की उपयोगिता लोगों को समझ में आ रही है। दरअसल इसी तालाब के पानी से जहां खेतों की सिंचाई होती थी वहीं मवेशी भी अपनी प्यास बुझाते थे। ग्रामीण शिवप्रसाद, भगवान, कैलाश, प्रशांत कुमार, हरदेव आदि ने ने बताया कि जिस वक्त तालाब का निर्माण कराया जा रहा था, तब ग्रामीणों ने घटिया काम होने का आरोप लगाते हुए जिला प्रशासन से जांच की मांग की थी लेकिन उस वक्त किसी ने ध्यान नहीं दिया। ग्रामीणों ने इस मामले की जांच कराए जाने, आदर्श तालाब की मरम्मत कराकर उसमें पानी भरे जाने की मांग की है। वहीं बभनी ब्लाक के खंड विकास अधिकारी जगरनाथ राव ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में है और जांच भी कराई जा रही है। जांच रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/wvHgLwAA

📲 Get Sonebhadra News on Whatsapp 💬