[tehri] - नंदू मामा की स्याली हो कमली की प्रस्तुति पर झूमे दर्शक

  |   Tehrinews

चंबा (टिहरी)। शहीद वीसी गबर सिंह नेगी मेले की दूसरी सांस्कृतिक संध्या लोक गायक गुंजन डंगवाल और पिंडर घाटी सांस्कृतिक कला मंच चमोली के कलाकारों के नाम रही। नंदू मामा की स्याली हो कमली... की प्रस्तुति पर दर्शक झूम उठे। कार्यक्रम में पांडव नृत्य सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र रहा। इंटर कॉलेज में आयोजित सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ मुख्य अतिथि टिहरी विधायक धन सिंह नेगी, विशिष्ट अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष संजय नेगी और बिजेंद्र धनोला ने किया। विधायक नेगी ने कहा कि वीर गबर सिंह ने पूरे विश्व में भारत का गौरव बढ़ाया है। उनके पैतृक गांव मंज्यूड़ में उनकी यादों को संजोए रखने के लिए संग्रहालय बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने शहीद वीसी गबर सिंह मेले के लिए प्रतिवर्ष तीन लाख रुपये की धनराशि तय की है। हालांकि इस बार मेला समिति को डीएम के माध्यम से संस्कृति विभाग को मेला आयोजन पर हुए खर्च के बिल भेजने होंगे, जिनके आधार पर भुगतान होगा।वहीं, दूसरी सांस्कृतिक संध्या की शुरूआत लोक गायक दिनेश उनियाल ने वीरगाथा कार्यक्रम से की। गुंजन डंगवाल की नंदू मामा की स्याली हो कमली गीत की प्रस्तुति पर दर्शक खूब झूमे। पिंडर घाटी सांस्कृतिक कला मंच के कलाकारों ने नंदा देवी के जागरों और पांडव नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी। हास्य कलाकार दिवाकर सेमवाल ने दर्शकों को अपने चुटकुलों से खूब गुदगुदाया। इस मौके पर धनोल्टी के पूर्व विधायक महावीर सिंह रांगड़, मेला समिति के अध्यक्ष इंद्र सिंह नेगी, अनुसूया नौटियाल, संदीप रावत, महावीर सिंह नेगी आदि उपस्थित रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/xhIvxgAA

📲 Get Tehri News on Whatsapp 💬