🤜एमएमएल को आतंकी संगठन घोषित 😲करने पर हाफिज सईद ने उड़ाई यूएस की 😱खिल्ली

  |   समाचार

मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद ने जमात उद दावा की पार्टी 'मिल्ली मुस्लिम लीग' को विदेशी आतंकी संगठन घोषित करने के अमेरिकी फैसले की खिल्ली उड़ाई है। हाफिज का कहना है कि ऐसा करके अमेरिका ने उनकी पार्टी की 'विश्वसनीयता' को प्रमाणित कर दिया है।

हाफिज सईद की राजनीतिक पारी पर रोक लगाने के लिए अमेरिका ने मंगलवार को 'मिल्ली मुस्लिम लीग' (एमएमएल) को आतंकी संगठन घोषित किया है। ये कदम ऐसे वक्त में उठाया गया है, जब पाकिस्तान में एमएमएल को एक राजनीतिक दल के रूप में मान्यता देने की कवायद चल रही थी।

'मिल्ली मुस्लिम लीग' को अमेरिका की ओर से आतंकी संगठन घोषित करने के बाद अब हाफिज के सामने अपनी पार्टी को पाकिस्तान चुनाव आयोग से रजिस्टर करने में दिक्कत आ सकती है। बता दें कि पाकिस्तान में इसी साल आम चुनाव होने हैं।

हाफिज ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी का जिक्र भी किया। उसने कहा कि पाक के पीएम को अपना पूरा कार्यकाल 'कश्मीर मुद्दे' के लिए समर्पित कर देना चाहिए। ऐसा करने पर अमेरिका बेशक आपका नाम वफादारों की सूची से हटा देगा, लेकिन ये आपके सम्मान का मसला है।

हाफिज ने 23 मार्च को एमएमएल का घोषणा पत्र जारी कर दिया था। मिल्ली मुस्लिम लीग को एक राजनीतिक पार्टी के रूप में मान्यता देने के लिए इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने भी रास्ता साफ कर दिया था। लश्कर-ए-तैयबा का गठन 1980 के दशक में हुआ था। वह 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार है। इन हमलों में 166 लोगों की मौत हो गई थी। अमेरिका ने लश्कर को 26 दिसंबर 2001 में विदेशी और वैश्विक आतंकी संगठन घोषित किया था। इसके मुखिया हाफिज सईद को भी वैश्विक आतंकी घोषित किया गया था।

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/qUJBSwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬