✋कांग्रेस ने अमित शाह का बयान को 😱बताया शर्मनाक

  |   समाचार

2019 लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी दलों की एकजुटता की कोशिशों पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अध्यक्ष अमित शाह के बयान की चौतरफा आलोचना हो रही है। कांग्रेस ने इसे 'शर्मनाक' करार दिया है।

शाह ने बीजेपी के स्थापना दिवस पर मुम्बई में एक रैली में कहा था, ''2019 ( चुनाव) के लिए उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। विपक्षी एकजुटता की कोशिश हो रही है। जब भारी बाढ़ आती है तो सब कुछ बह जाता है। केवल एक वटवृक्ष बचता है और बढ़ते पानी से खुद को बचाने के लिए सांप, नेवला, कुत्ते और बिल्लियां और अन्य जानवर साथ आ जाते हैं।''

उन्होंने शुक्रवार को कहा था, ''मोदी बाढ़ के कारण सभी बिल्ली- कुत्ते, सांप और नेवला मुकाबला करने साथ आ रहे हैं।'' कांग्रेस प्रवक्ता आनंद शर्मा ने शाह के बयान पर कहा, ''यह उनकी मानसिकता दर्शाती है। वे बार- बार राजनीतिक चर्चा को निचले से निचले स्तर तक घसीट कर ले गये हैं। यह शर्मनाक है। हम उनसे और क्या उम्मीद कर सकते। यह उनके डीएनए में है।''

वहीं कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि अमित शाहजी, बाढ़ प्रलय लाती है, बर्बाद करती है, वैसे ही जैसे मोदी-शाह की जोड़ी ने देश के ‘किसान’, ‘बेरोज़गार नौजवान’, दलित/आदिवासियों’, ‘दुकानदार/उद्यमी’ को बर्बाद किया है। ये न भूलें बाढ़ कुछ समय के लिए आती है। हम सब भारतीय भाईचारे के बाँध बना ईस त्रासदी को रोक देंगें।

नेशनल कांफ्रेंस नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी ट्वीट किया, 'क्या बीजेपी अध्यक्ष ने माननीय प्रधानमंत्री की प्राकृतिक आपदा से तुलना की? तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, ''बेशक हम राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी हैं, क्या हम किसी सत्तारूढ़ पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से ऐसी भाषा की उम्मीद कर सकते हैं? मूल शिष्टाचार पूछने के लिए बहुत कुछ है।''

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/FJk5YQAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬