[baghpat] - शामली से जहर लेकर निकले, बागपत में चुन ली मौत

  |   Baghpatnews

बागपत। किशोरी की बागपत में मौत हो गई, जबकि युवक ने दिल्ली के अस्पताल में देर रात दम तोड़ दिया। शामली से दोनों बृहस्पतिवार की रात में करीब दो बजे ट्रेन में सवार हुए थे। करीब सवा तीन बजे बागपत पहुंचे। स्टेशन पर करीब दो घंटे तक इधर-उधर घूमते रहे। दोनों बेचैन थे। करीब पांच बजे दोनों ने जहर निगल लिया और गोदाम के पास चले गए। दोनों गले लगकर रोए। इसके बाद यात्रियों ने उन्हें जमीन पर तड़पते देखा तो युवक के मोबाइल से ही पुलिस को कॉल की।
प्रेमी युगल के जहरीला पदार्थ खाने से हर कोई हैरान है। किशोरी शामली स्थित एक महाविद्यालय में पढ़ती थी। बृहस्पतिवार की रात में करीब एक बजे वह घर से निकली। पुलिस का मानना है कि युगल शामली से दिल्ली जाने वाली पैसेंजर ट्रेन में करीब दो बजे सवार हुए होंगे। करीब सवा तीन बजे यह ट्रेन बागपत रोड स्टेशन पहुंची। दोनों यही उतर गए और काफी देर तक स्टेशन पर बैठे बातें करते रहे। स्टेशन पर इक्का-दुक्का यात्री ही थे। दोनों बातें करते हुए गोदाम की तरफ गए। करीब दो घंटे तक दोनों इधर-उधर घूमते रहे और बातें करते रहे। करीब पौने पांच बजे रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और पानी से जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। इसके बाद दोनों वापस गोदाम में पहुंच गए। कुछ ही देन में दोनों तड़पने लगे और छटपटाते हुए जमीन पर गिर गए। शामली से दूसरी ट्रेन पहुंची तो दैनिक यात्रियों की भीड़ बढ़नी शुरू हो गई। किशोरी बेसुध हो चुकी थी। लोगों ने युवक से कई सवाल पूछे, लेकिन वह जवाब नहीं दे सका। इस बीच उसके मोबाइल का किसी तरह पास वर्ड खुलवाकर लोगों ने यूपी डायल 100 को कॉल की। पुलिस पहुंची और दोनों को जिला अस्पताल ले गई।

मौत को गले लगाने ही निकले थे घर से
बागपत। किशोरी की मौत के बाद कई सवाल अनसुलझे हैं। आखिर किस दबाव में दोनों ने मौत का रास्ता चुना। जिस तरह रात में जहर लेकर घर से निकले थे, उससे साफ है कि दोनों पहले ही फैसला कर चुके थे। दोनों के परिजन कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं है। किशोरी के पास अपना मोबाइल तक नहीं था। युवक की जेब से सिर्फ 50 रुपये और सिर्फ एक मोबाइल ही मिला है।

दिल्ली जाने के लिए लिया था टिकट
बागपत। दोनों के पास दिल्ली तक के सफर का टिकट मिला है, लेकिन बीच में ही वह बागपत रोड स्टेशन पर उतर गए। यहीं पर मौत को गले लगाने का फैसला कर लिया।

किशोरी लापता हुई तो परिजनों ने शुरू की तलाश
बागपत। किशोरी अपने मकान की छत से साड़ी बांधकर नीचे उतरी। पुलिस को जानकारी मिली है कि एक अन्य युवक भी साथ था, जिसने दोनों को रेलवे स्टेशन तक पहुंचाया। किशोरी के परिजनों को करीब चार बजे भनक लगी। इसके बाद वह जानकारी जुटाते हुए युवक के घर पहुंच गए और उसके पिता को साथ लेकर तलाश शुरू कर दी। इस बीच वह बार-बार युवक के मोबाइल पर भी कॉल कर रहे थे। इधर जैसे ही पुलिस ने युवक के मोबाइल पर कॉल रिसीव कर जानकारी दी तो दोनों के परिजनों के होश उड़ गए।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ANOk1AAA

📲 Get Baghpat News on Whatsapp 💬