[chamba] - गुलेल जंगल में वन काटुओं ने कायल के पेड़ों पर चलाई कुल्हाड़ी

  |   Chambanews

अमर उजाला ब्यूरो

चंबा। किहार की गुलेल बीट में वन काटुओं ने कायल के तीन पेड़ों पर कुल्हाड़ी चला दी। अवैध कटान के बारे में उस समय पता चला, जब बीट प्रभारी वन रक्षक जंगल का औचक निरीक्षण कर रहा था। इसी दौरान उसे जंगल में कायल के तीन पेड़ कटे हुए नजर आए।

मौके से पेड़ों की लकड़ी भी गायब थी। लकड़ी के नाम पर पेड़ों के ठूूंठ ही शेष बचे थे। लकड़ी और वन काटुओं की तलाश को लेकर वन रक्षक ने जंगल का चप्पा-चप्पा छान मारा। मगर लकड़ी और वन काटुओं का कोई पता नहीं चला। इसके बाद वन रक्षक ने किहार थाना में जाकर अज्ञात लोगों के खिलाफ अवैध रूप से लकड़ी काटने का मामला दर्ज करवाया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वन रक्षक नवीन ठाकुर ने गुलेल बीट में अवैध कटान को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस और वन विभाग की टीम ने वन काटुओं की तलाश शुरू कर दी है। इसके लिए जंगल के आसपास के गांव में रहने वाले लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। शायद गांववासियों ने किसी को लकड़ी ले जाते हुए देखा हो।

फिलहाल अभी तक पुलिस और वन विभाग के हाथ वन काटु नहीं चढ़ पाए हैं। जंगल में अवैध कटान का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी जिले के विभिन्न जंगलों में अवैध कटान के मामले सामने आ चुके हैं। हैरानी की बात है कि वन रक्षक होने के बाद भी जंगल में अवैध रूप से पेड़ काटे जा रहे हैं। इससे वन रक्षकों की ड्यूटी भी सवालों के घेरे में है।

पुलिस और वन विभाग मिलकर रहे मामले की जांच : एसपी

पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि गुलेल बीट में तीन पेड़ों के अवैध कटान का मामला सामने आया है। इसको लेकर वन रक्षक ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। पुलिस और वन विभाग मिलकर मामले की जांच कर रहे हैं।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/3myN8wAA

📲 Get Chamba News on Whatsapp 💬