[faizabad] - इलाज में लापरवाही से मरीज की मौत, हंगामा

  |   Faizabadnews

जिला अस्पताल में मरीज की मौत पर हंगामा
फैजाबाद। जिला अस्पताल में शुक्रवार को डॉक्टरों की संवेदनहीनता व इलाज में लापरवाही से एक मरीज की मौत हो गई। आक्रोशित परिवारीजनों ने इमरजेंसी कक्ष के बाहर तीन घंटे जमकर हंगामा काटा। मामले में सीएमएस व पुलिस से शिकायत की गई है।
थाना पूराकलंदर के रंजीत का पुरवा सरियांवा निवासी केदारनाथ पांडेय (70) को गंभीर हालत में लेकर पुत्र कौशल व पुत्री सुभद्रा ने जिला अस्पताल के इमरजेंसी कक्ष में शुक्रवार सुबह करीब दस बजे पहुंचे। भर्ती करने से पूर्व ड्यूटी पर तैनात स्वास्थ्य कर्मी ने पहले ओपीडी में मौजूद चिकित्सक को दिखाने के लिए कहा। मरीज को लेकर जब ओपीडी में मौजूद चिकित्सक को दिखाया तो उसने पहले बाहर से दवाएं लाने के लिए लिस्ट थमा दी। इसके बाद जांच कराने की सलाह दी। आरोप है कि परिवारीजनों ने कई बार भर्ती कर स्थाई इलाज का आग्रह किया, लेकिन किसी ने नहीं सुना। इलाज शुरू होने से पूर्व ही करीब एक बजे मरीज की मौत हो गई। इसके बाद परिवारीजनों ने इमरजेंसी के बाहर घंटों हंगामा किया। इमरजेंसी कक्ष के इर्द-गिर्द अफरा-तफरी का माहौल रहा। पुत्री सुभद्रा ने बताया कि पैसे के अभाव में जिला अस्पताल लाया गया था। लेकिन यहां भी सबसे पहले 1500 की दवा मंगाई गई। तीन घंटे तक इलाज शुरू भी नहीं किया गया। हमने कई बार इमरजेंसी में मौजूद डॉक्टर व अन्य से भर्ती कराने की अनुरोध किया, लेकिन किसी ने एक न सुनी। आखिर में समय से इलाज शुरू न होने पर मरीज की मौत हो गई। जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ. हरिओम श्रीवास्तव का कहना है कि मरीज को गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था। संबंधित चिकित्सक ने किन्हीं कारणों से मरीज को भर्ती नहीं कराया, जांच की जाएगी। दवाएं मंगाने का आरोप निराधार है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qh04wQAA

📲 Get Faizabad News on Whatsapp 💬