[kaushambi] - कब्रिस्तान की भूमि पर कब्जे की जांच में खेल

  |   Kaushambinews

मंझनपुर। कब्रिस्तान की भूमि पर अवैध कब्जे की जांच करने में करारी के लेखपाल ने खेल किया। 20 दिन के भीतर दो रिपोर्ट एसडीएम को दी। एक में कब्जा नहीं होने की बात लिखी। दूसरी रिपोर्ट में गलत तरीके से दस मकानों के निर्माण का दावा किया।

करारी नगर पंचायत के चमनगंज मोहल्ला निवासी इस्लाम पुत्र बफाती ने बताया कि आजाद नगर वार्ड में कब्रिस्तान की भूमि खाली पड़ी थी। इस पर कब्जा करके कुछ लोगों ने मकान बनवा लिया है। फरवरी में शिकायत एसडीएम से की गई थी। एसडीएम के निर्देश पर लेखपाल ने मामले की जांच की। 18 फरवरी को लेखपाल ने अपनी जांच रिपोर्ट उपजिलाधिकारी को सौंपी। इसमें लिखा कि कब्रिस्तान की भूमि पर जलसा स्टेज बना हुआ है। बाकी किसी तरह का कोई अतिक्रमण नहीं है। इस रिपोर्ट के बाद इस्लाम ने फिर से एसडीएम को शिकायती पत्र दिया।

लिहाजा लेखपाल को दोबारा प्रकरण की जांच करनी पड़ी। 11 मार्च को एसडीएम को सौंपी गई दूसरी रिपोर्ट में लेखपाल ने लिखा कि विवादित भूमि पर अवैध तरीके से दस मकान बने हैं। वहीं लेखपाल शत्रुघ्न प्रसाद का कहना है कि पूर्व में हुई पैमाइश के आधार पर पहली रिपोर्ट दे दी गई थी। बारीकी से जांच की गई तो असलियत सामने आई।

बताया जाता है कि मंझनपुर एसडीएम विवेक चतुर्वेदी ने लेखपाल की दूसरी रिपोर्ट के आधार पर 12 मार्च को ईओ करारी को अवैध कब्जा हटवाने का निर्देश दिया था। अभी तक कब्जा नहीं हटवा सका है। मामले में ईओ लालजी यादव का कहना है कि सभी मकान 30 साल पुराने हैं। इसलिए कब्जा नहीं हटवाया जा रहा है। वहीं एसडीएम सदर का कहना है कि अवैध तरीके से किया गया कब्जा क्यों नहीं हटवाया गया। इस बारे में ईओ करारी से जवाब-तलब किया जाएगा। जांच कराकर जल्द ही भूमि कब्जामुक्त कराई जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1wBHnAAA

📲 Get Kaushambi News on Whatsapp 💬