[kullu] - ढालपुर में कई सूखे पेड़ दे रहे हादसों को न्यौता

  |   Kullunews

ढालपुर में सूखे पेड़ दे रहे हादसों को न्यौता
पेड़ों की कांट-छांट के बावजूद नहीं टला खतरा
हर पेड़ों की छांव में बैठते हैं दर्जनों लोग
अमर उजाला ब्यूरो
कुल्लू। जिला मुख्यालय के ढालपुर मैदान के आसपास कई सूखे पेड़ हादसों को न्यौता दे रहे हैं। वन विभाग की ओर से ढालपुर में दर्जनों पेड़ों की कांट-छांट के बावजूद अभी भी लोगों की जान पर जोखिम बना हुआ है। सूखे पेड़ों से कभी भी गिरने वाले टहनियां लोगों की जान के लिए आफत बन सकती हैं।
वन विभाग ने कॉलेज चौक से लेकर ढालपुर चौक होते हुए अस्पताल परिसर तक कई हरे भरे पेड़ों पर आरी चलाकर इन्हें लोगों की जान की सुरक्षा का हवाला देकर ठूंठ बना डाला है। वहीं कई पेड़ अभी ढालपुर के इर्दगिर्द मौजूद हैं, जिनकी टहनियां गिरने से कभी भी हादसा हो सकता है।
शुक्रवार को सामने आए ताजा प्रकरण में गिरिधर अपने ससुर हीरू राम के साथ दोपहर के समय देवदार के पेड़ के नीचे छांव में ही बैठा था। हालांकि इस दौरान उनके साथ हीरू राम का पोता हंसराज भी था। हल्की सी हवा के दौरान अचानक पेड़ से एक सूखी टहनी गिरकर टूट गई और हीरू राम के सिर पर आ गिरी। जिसमें उसकी दर्दनाक मौत हो गई।
घटना के बाद परिजनों ने घटना पर अफसोस जताया कि अगर पेड़ के सूखे टहनों को पहले ही काट दिया होता तो शायद यह दर्दनाक हादसा पेश नहीं आता। हंसराज ने कहा कि जिला प्रशासन को भी इस घटना के साथ सबक लेना चाहिए। लोगों की जान के लिए खतरनाक बने इन पेड़ों को हटाया जाए। जो हादसा उनके साथ हुआ है वह किसी और के साथ न हो। वहीं घटना को लेकर शहर में चर्चाओं का माहौल है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/oUfTcQAA

📲 Get Kullu News on Whatsapp 💬