[ludhiana] - 20 कलाकारों ने पैशन ऑफ आर्ट में दिखाया हुनर

  |   Ludhiananews

20 कलाकारों ने पैशन ऑफ आर्ट में दिखाया हुनर
गृहणियों को पैशन आफ आर्ट के माध्यम से सामने आने का मिला मौका
रंग, मूर्ति, पेपर क्वीलिंग, कैलेग्राफी और स्ट्रिंग आर्ट का दिखा संगम
अमर उजाला ब्यूरो
लुधियाना।
अदा ग्रुप की ललिता, गीतांजलि, ऋषि, पूजा और चित्रा की ओर एटमोस्फेयर गैलरी में तीन दिवसीय पैशन आफ आर्ट एग्जीबिशन का आयोजन किया गया। इसमें किसी ने रंगों से पेंटिंग बनाई, तो किसी ने पेपर क्वीलिंग में हुनर दिखाया। वहीं गृहणियों ने भी अपनी कला को प्रस्तुत किया। इसमें कई महिलाएं ऐसी भी शामिल रहीं, जिन्होंने एग्जीबिशन में पहली बार भाग लिया। इसमें करीब 20 कलाकारों ने 60 कलाकृतियों में अपनी काबलियत दिखाई।
कलाकारों ने बुद्धा, गणेश, कृष्णा, फ्लोरल पेंटिंग, फोटोग्राफी, ऑयल और वॉटर कलर से पेंटिंग बनाई। 8 अप्रैल तक चलने वाली उक्त एग्जीबिशन में लुधियाना के करीब 18 कलाकार, चेन्नई और फरीदकोट से एक-एक कलाकार ने हिस्सा लिया। एग्जीबिशन का उद्घाटन भाई साहिब देवेंद्र सूद ने किया। उनके अलावा काउंसिलर महाराज सिंह राजी, जिला प्रधान रणबीर सिंह सैनी, सीनियर कांग्रेस नेता व भूतपूर्व काउंसिलर हेमराज अग्रवाल, रशी अग्रवाल, डीडी जैन कालेज ऑफ एजुकेशन की प्रिंसिपल डॉ. विजय लक्ष्मी अग्रवाल विशेषातिथि रहे। उन्होंने कलाकारों की ओर से बनाई कलाकृतियों की सराहाना की।
इस दौरान कंवर बेदी ने बताया कि वह बार प्रोफेशनली एग्जीबिशन में आई हैं। शादी के बाद उनके ब्रदर इन ला ने मूर्तिकारी में उनकी मदद की। 12 साल टीचिंग के बाद डीडी जैन कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ. विजय लक्ष्मी ने उन्हें मोटिवेट किया। फ्री टाइम में वह वेस्ट मैटीरियल, क्ले मिक्सचर व पुराने फैब्रिक की मदद से स्कलप्चर तैयार किए हैं। इससे स्टैचू आफ लिबर्टी, मां की गोद बच्चे का स्कलप्चर को प्रस्तुत किया है। कंवर बेदी ने बताया कि वह हमेशा से म्यूरल पेंटिंग बनाया करती थी, लेकिन क्लास के दौरान उन्होंने मूर्तिकारी सीखी।
रंग बिरंगे धागों के इस्तेमाल से बनाई स्ट्रिंग आर्ट
डॉ. दलजीत कौर ने बताया कि वह पहली बार एग्जीबिशन में प्रोफेशनली भाग लेने के लिए पहुंची हैं। वह किसी भी चीज को अपनी ओर से बेहतरीन बनाने की कोशिश करती हैं। पेंटिंग का शौक स्कूल समय से ही था। जब भी समय मिलता वह पेंटिंग करतीं। शादी सेे पहले भी कई पेंटिंग बनाईं, परंतु सामने नहीं आ पाई। ललिता मैडम के कहने पर वह एग्जीबिशन में भाग ले पाई है। रंगबिरंगे धागों से इस्तेमाल से स्ट्रिंग आर्ट बनाई है। इसमें सिलक का धागा इस्तेमाल किया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/xrQYQwAA

📲 Get Ludhiana News on Whatsapp 💬