[moradabad] - दस साल पुरानी बसों के संचालन पर रोक

  |   Moradabadnews

संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में दस साल से अधिक पुरानी बसों के संचालन पर रोक लगाने का फैसला लिया है। इस पर सख्ती से अमल कराने की जिम्मेदारी आरटीओ को सौंपी गई है। कांठ रोड़ पर नया बस अड्डा, दो दर्जन मार्गों पर रोडवेज की बसों का संचालन, शहर को जाम से मुक्ति दिलाने सहित कई अहम फैसले भी इसी बैठक में लिए गए हैं। कमिश्नर राजेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में करीब एक घंटे तक चली बैठक में इन सभी कामों को कराने के लिए रणनीति तैयार कर परिवहन, पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इन मार्गों पर चलेंगी रोडवेज बस- अतुल जैन का कहना है कि जिन 23 रूटों के लिए आवेदन किए गए थे। इन सभी के लिए परमिट मिल गए हैं। अब गांव देहात के क्षेत्र से रोडवेज बसें जुड़ जाएंगी। नए रुटों में कैलसा रोड-शेरूआ चौराहा वाया हकीमपुर, स्वार-सरकड़ी (यूपी बॉर्डर),बिलासपुर-रमपुरा-नानकपुरी, स्वार-मसवाली-सुल्तानपुर पट्टी, दयालवाला-रावली-बिजनौर, बसंतपुर-जीलपुर-गंज, स्याऊ-धनसूलपुर-छाछरी मोड़, हल्दौर-कड़ापुर-छाछरी मोड़, बढ़ापुर-नीदडू-स्योहारा, नजीबाबाद-राजामोरध्वज, शेरकोट-हरवेली-अफजलगढ़, आकू-धनुपराु-हल्दौर, गजरौला-कुमराला-बछरायूं, बरावली-उझारी, हकीमपुर-जलालपुर, धनौरा-फीना, छपना-बरतौरा, हसनपुर-गंवा-डिवाई, जुनावई-गुन्नौर-संभल, बहजोई-गिरावटी-गंवा और बहजोई-पाठकपुर-सुल्तानगढ़-जुनावई।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Nvb6aQAA

📲 Get Moradabad News on Whatsapp 💬