[rajouri] - कठुआ की तर्ज पर राजोरी के डीसी ने निजी स्कूलों पर कसा शिकंजा

  |   Rajourinews

राजोरी। कठुआ के डीसी की तर्ज पर शुक्रवार को राजोरी के डीसी ने भी जिले के प्राइवेट स्कूलों पर शिकंजा कस दिया है। डीसी ने निर्देश जारी कर निजी स्कूलों में मनमानी फीस वृद्धि पर रोक लगा दी है।
जिले भर में चल रहे प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाई कर रहे बच्चों के अभिभावकों की तरफ से बार-बार शिकायत करने के बाद हरकत आए जिला प्रशासन ने स्कूल प्रबंधकों को निर्देश जारी किए हैं। जिला मजिस्ट्रेट एवं डीसी राजोरी डॉ शाहिद इकबाल चौधरी द्वारा जारी नोटिस के अनुसार अभिभावक बार-बार शिकायत कर रहे थे कि निजी स्कूलों ने फीस काफी ज्यादा बढ़ा दी है, इसके साथ ही ट्रांसपोर्ट भाड़े में काफी वृद्धि कर दी है। कई निजी स्कूलों में बैग, पुस्तकें व अन्य स्टेशनरी बेचे जाते हैं। प्राइवेट स्कूलों की तरफ से की जाने वाली फीस वृद्धि को लेकर राज्य सरकार ने वर्ष 2015 में एक कमेटी गठित कर फीस विनियमित करने के निर्देश दिए थे, लेकिन प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने सरकार द्वारा बनाई गई कमेटी पर हाईकोर्ट से स्टे ले लिया था। जिला मजिस्ट्रेट ने फीस वृद्धि व अन्य मुद्दों के समाधान के लिए प्राइवेट स्कूलों को निर्देश जारी कर उन निर्देशों को पालन करने के आदेश जारी किए हैं।

क्या हैं निर्देश
1 सभी प्राइवेट स्कूल सरकार द्वारा दी गई मान्यता और अनुमति के आधार पर कार्य करें। अनधिकृत कक्षाएं लगाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
2 हर स्कूल नियमों के अनुसार सुसज्जित और हवादार ढांचा उपलब्ध करवाकर बच्चों को शिक्षा प्रदान करे। फीस में की गई वृद्धि के मुताबिक स्कूल सुविधाएं भी उपलब्ध करवाए।
3 ट्रांसपोर्ट भाड़े में वृद्धि के लिए सभी स्कूल एआरटीओ द्वारा जारी किराए को लागू करें व बच्चों की सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें।
4 सत्र के बीच में किसी प्रकार के शुल्क में कोई वृद्धि न की जाए।
5 सभी स्कूल योग्य शिक्षकों की उपलब्धता को हर हाल में सुनिश्चित करें।
6 सभी स्कूल विभिन्न कक्षाओं से ली जा रही फीस, ट्रांसपोर्ट शुल्क को अपने स्कूल के नोटिस बोर्ड पर लिखें।
7 स्कूलों में नियुक्त किए गए सभी शिक्षकों का पूरा ब्योरा उनके फोटो के साथ हमेशा तैयार रखें।
8 स्कूलों में स्वच्छ पेयजल सुविधा, बिजली व नियमानुसार प्ले ग्राउंड उपलब्ध करवाएं।
9 स्कूलों में विभिन्न प्रकार की प्रयोगशालाओं की पूरी सुरक्षा सुनिश्चत करें।
10 बच्चों व अभिभावकों की शिकायतों को ध्यान से सुन कर समय रहते उनका निराकरण करें।

सीईओ और जेडईओ को निर्देश
जिला मजिस्ट्रेट ने सीईओ व सभी शिक्षा जोनों के जेडईओ को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि वे इन सभी निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें। डीएम ने स्कूलों को चेतावनी देते हुए कहा है कि जिला प्रशासन द्वारा गठित विशेष टीमें कभी भी किसी स्कूल में पहुंच कर जांच कर सकती हैं। नियमों का उल्लंघन करने वाले स्कूलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/YIeukgAA

📲 Get Rajouri News on Whatsapp 💬