[sitapur] - अब पालिका के पास होगी अपनी फोर्स

  |   Sitapurnews

अतिक्रमण, अवैध कब्जा, अवैध होर्डिंग आदि के विरुद्ध करेगी कार्रवाई
सीतापुर। नगर पालिका को अब पुलिस के भरोसे नहीं रहना पड़ेगा। पालिका की अपनी फोर्स होगी। क्षेत्र में अतिक्रमण, अवैध कब्जा, पॉलीथिन, अवैध होर्डिंग, अवैध पार्किंग आदि के विरुद्ध यह फोर्स कार्रवाई करेगी। फोर्स तैयार करने के निर्देश शासन से जारी कर दिए गए हैं। इस फोर्स (प्रवर्तन दस्ता) में सेना के रिटायर्ड अफसर, होमगार्ड व पीरआरडी जवान शामिल होंगे।

पालिका प्रशासन प्रवर्तन दस्ता गठित करेगा। जिसके बाद इस दस्ते को पालिका की ओर से वाहन मुहैया कराया जाएगा। दरअसल, शासन ने 74वें संविधान संशोधन के तहत निकायों को प्रशासनिक अधिकारों से युक्त किया है। प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह ने इसके तहत एक लाख आबादी वाली नगर पालिकाओं को प्रवर्तन दस्ता गठित करने के निर्देश जारी किए हैं।

प्रवर्तन दस्ते में लेफ्टीनेंट कर्नल स्तर का एक रिटायर्ड अफसर, सेना के तीन रिटायर्ड सिपाही और छह होमगार्ड अथवा पीआरडी जवान शामिल होंगे। यह प्रवर्तन दल पालिका की निजी फोर्स के तौर पर काम करेगी। प्रवर्तन दल के कार्यों की मासिक समीक्षा होगी।

उसके वेतन की व्यवस्था उसके द्वारा की गई वसूली की राशि से की जाएगी। प्रवर्तन दलों को गाड़ी और ट्रक पालिका की ओर से उपलब्ध कराया जाएगा। इसके गठन के लिए सेना के पूर्व अफसरों और पूर्व सैनिकों की नियुक्ति भूतपूर्व सैनिक कल्याण निगम के माध्यम से की जाएगी।

प्रवर्तन दस्ता गठित होने से पालिका को पुलिस के भरोसे नही रहना पड़ेगा। अभी तक पालिकाएं अतिक्रमण, अवैध कब्जा हटाने, अवैध पार्किंग व होर्डिंग हटाने सहित कई कार्यों के लिए पुलिस के भरोसे रहती है।

यह होंगे प्रवर्तन दल के काम
कूड़ा फैलाने वालों, प्लास्टिक के कूड़े पर प्राथमिकता से सख्ती, कूड़ा जलाने तथा कूड़े के अवैध भंडार पर सख्ती, अतिक्रमण और अवैध कब्जा हटाना तथा नया कब्जा न होने देना, अवैध विज्ञापन पट को हटाना, सड़कों, सार्वजनिक स्थलों पर अवरोध हटाना, अवैध पार्किंग रोकना, नो वेंडिंग जोन का पालन कराना, प्रतिबंधित प्लास्टिक की बिक्री रोकना, पालिका अध्यक्ष के आदेश पर कार्रवाई करना, बकाया करों की वसूली।

ईओ को दिए निर्देश
शासन से एक लाख आबादी वाली नगर पालिका में प्रवर्तन दल गठित करने के निर्देश दिए गए हैं। निर्देशों के अनुपालन को लेकर ईओ को पत्र जारी किया गया है।
-हर्षदेव पांडेय, सिटी मजिस्ट्रेट

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/xrojTAAA

📲 Get Sitapur News on Whatsapp 💬