[mahendragarh-narnaul] - गांव पाली में ग्रामीणों ने लगाया जाम

  |   Mahendragarh-Narnaulnews

अमर उजाला ब्यूरो महेंद्रगढ़/आकोदा।बिजली की समस्या को लेकर गांव पाली वासियोें ने महेंद्रगढ़-चरखी दादरी नेशनल हाईवे 148बी पर जाम लगा दिया। साथ ही कर्मचारियों को बाहर निकाल कर महिलाओं ने 133केवीके सब-स्टेशन पर ताला लगा दिया। इसके बाद महिलाओं ने बिजली निगम के खिलाफ जमकर नारेेबाजी की। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसडीओ गौरव कुमार पहुंचे। आक्रोशित महिलाओं ने एसडीओ को काफी खरी खोटी सुनाई और लिखित में आश्वासन देने के लिए कहा। मजबूरन एसडीओ ने ग्रामीणों को लिखित में आश्वासन देना पड़ा। उसके बाद ग्रामीणों ने जाम खोला। जाम 12 से 2 बजे तक लगा रहा। जाम के कारण दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। स्कूल बस भी जाम में फंसी रही।पिछले कई दिनों से गांव में बिजली की समस्या चल रही है। ग्रामीण ने कई बार निगम को शिकायत भी कर चुके हैं किंतु अधिकारियों ने उनकी बात नहीं सुनी तो वीरवार दोपहर 12 बजे नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया। जाम लगाने के 20 मिनट बाद महिलाएं रोड पर स्थित 133 केवीके सब-स्टेशन पहुंच गई और कर्मचारियों को बाहर निकालकर सब-स्टेशन पर ताला जड़ दिया। जाम लगने के एक घंटे बाद एसआई महाबीर सिंह मौके पर पहुंचे।उन्होंने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया किंतु ग्रामीण अपनी बात पर अड़े रहे। इसके बाद बिजली निगम के एसडीओ गौरव कुमार पहुंचे तो महिलाएं उनकी बात सुनने से मना कर दिया।एसडीओ ने कहा कि गांव के 65 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने बिल नहीं भरा है। बिल भरे जाने के बाद लाइट का समय बढ़ा दिया जाएगा। महिलाओं ने कहा कि जो लोग बिल नहीं भर रहे उन पर कार्रवाई करें जो भर रहे हैं उनको पूरी बिजली दी जाए। महिलाओं ने एसडीओ से कहा कि वो लिखित में आश्वासन देंगे तो जाम खोलेंगी। लगभग एक घंटे सोच विचार के बाद एसडीओ ने एक पेज पर लिखित में आश्वासन दिया। उसके बाद ग्रामीणों ने जाम खोला।क्या कहते हैं ग्रामीणग्रामीणों ने बताया कि गांव में 132केवी तथा 33 केवी के दो सब-स्टेशन है। इन दोनों सब-स्टेशनों को गांव की पंचायत ने 16 एकड़ जमीन दी है। जब सरकार को जमीन दी गई थी, तो गांव में 18 घंटे बिजली देने का वादा किया गया था। किंतु 18 घंटे की बजाए 14 घंटे शेड्यूल की भी बिजली नहीं मिल रही। गांव में आठ से दस घंटे बिजली सप्लाई हो रही है, जिससे ग्रामीण परेशान हैं। उन्होंने बताया कि रात को आठ से सुबह पांच बजे तक और दिन में 12 से डेढ़ बजे तक बिजली सप्लाई होती है। इस बीच भी एक-दो घंटे का कट हो जाता है।वाहन चालकों को उठानी पड़ी परेशानीजाम कारण के कारण नेशनल हाईवे पर दोनों ओर वाहन की कतार लग गई। जाम में रोडवेज बसें तथा निजी स्कूलों की बसें भी फंसी रहीं। इससे यात्रियों एवं विद्यार्थियों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। विद्यार्थियों को पैदल घर जाना पड़ा। वहीं, दुपहिया वाहन कच्चे रास्ते से जाने का प्रयास कर रहे थे तो वहां भी गुस्साई महिलाओं ने झाड़ी डाल दी। कई वाहन चालकों को तो मालड़ा, बवाना के रास्ते से होकर गुजरना पड़ा।यह दिया लिखित में आश्वासनबिजली के कट थर्मल पावर प्लांट खेदड़ इकाई बंद होने की वजह से लग रहे हैं। जोकि 3-4 दिन में ठीक होने की संभावना है। जैसे ही थर्मलों की इकाई ठीक हो जाएगी, कट लगने बंद हो जाएंगे। गांव में 18 घंटे बिजली सप्लाई देने के लिए उच्च अधिकारियों को अवगत करवाकर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।- गौरव कुमार, एसडीओ बिजली निगम

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tUstlwAA

📲 Get Mahendragarh Narnaul News on Whatsapp 💬