[budaun] - जिला अस्पताल के डॉक्टर पर लापरवाही की तोहमत, हंगामा

  |   Budaunnews

जिला अस्पताल के डॉक्टर पर लापरवाही की तोहमत, हंगामा

सड़क हादसे में घायल की मौत के बाद उग्र हुए परिजन, नहीं कराया पोस्टमार्टम

अमर उजाला ब्यूरो

बदायूं। जिला अस्पताल के डॉक्टरों पर लगातार लापरवाही का आरोप लग रहा है। इसके बावजूद सुधार का नाम नहीं है। शुक्रवार रात एक घायल व्यक्ति की मौत के बाद परिवार वालों ने हंगामा कर दिया। उन्होंने डॉक्टर पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। कई घंटे बाद परिवार वाले शांत हुए।

शुक्रवार दोपहर उसावां थाना क्षेत्र में एक बेकाबू बोलेरो पलट गई थी, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। मृतकों में वृद्ध प्रताप सिंह ने जिला अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया था। जबकि चालक ज्ञान सिंह की इलाज के दौरान मौत हुई थी। परिजन उन्हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल ले गए थे। उन्हें अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया गया था। हादसे की सूचना पर उनके परिवार वाले और गांव के दर्जनों लोग अस्पताल पहुंच गए थे। देर रात ज्ञान सिंह की मौत के बाद परिवार वालों ने हंगामा कर दिया। डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाया। परिजन बोले कि ज्ञान सिंह को भर्ती कराने के बाद डॉक्टर ने उन्हें एक बार भी नहीं देखा और न ही उन्हें कोई इंजेक्शन दिया गया। इसी वजह से घायल की मौत हो गई। रात करीब 11 बजे शुरू हुआ हंगामा करीब एक घंटे तक चलता रहा। सूचना मिलते ही अस्पताल की चौकी पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मृतक के परिवार वालों को शांत करने का काफी प्रयास किया। परंतु वह शांत नहीं हुए। सूचना पर सदर कोतवाली से पुलिस बल अस्पताल पहुंच गया। रात करीब एक बजे तक हंगामा हुआ, तब कहीं परिवार वाले शांत हुए। इस पर उन्होंने शव का पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। वह बगैर पोस्टमार्टम कराए ज्ञान सिंह के शव को अपने घर ले गए। जबकि उसावां पुलिस ने शनिवार दोपहर प्रताप सिंह के शव का पोस्टमार्टम करा दिया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zSazagAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬