[budaun] - सरकर की गलत नीतियों से किसान आत्महत्या को मजबूर: धर्मेंद्र यादव

  |   Budaunnews

फोटो-19,20

सरकार की गलत नीतियों से किसान आत्महत्या को मजबूर: धर्मेंद्र

गन्ने के बकाए की मांग पर सपाइयों ने शेखूपुर,यदु शुगर मिल पर किया धरना

अमर उजाला ब्यूरो

बदायूं। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान नहीं होने पर सपा कार्यकर्ताओं ने शेखूपुर सहकारी चीनी मिल और बिसौली में यदु शुगर मिल पर धरना-प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने केंद्र और राज्य सरकार को किसान विरोधी बताते हुए जमकर हमले किए।

शहर से सटे शेखूपुर स्थित सहकारी चीनी मिल गेट पर धरने के दौरान सांसद धर्मेंद्र यादव ने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है और यूपी देश का सबसे बड़ा राज्य है। इसमें लाखों किसान गन्ने की फसल करते हैं। कड़ी मेहनत और भरपूर लागत लगाकर किसान चीनी मिलों पर गन्ने की आपूर्ति करते है। वर्ष 2017-18 में प्रदेश भर में किसानों का लगभग 15 हजार करोड़ रुपये चीनी मिल मालिकों पर बकाया है। पिछले वर्ष में आलू, गेहूं और धान की फसल में भारी नुकसान होने के कारण किसान तंगी के दौर से गुजर रहा है। अब गन्ने के बकाए का भुगतान नहीं हो रहा। इससे किसान आत्महत्या करने पर मजबूर हो रहे हैं। सांसद ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किसानों के बकाया भुगतान के लिए कई बार सरकार से कहा परंतु केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार चंद पूंजीपतियों को और अधिक पूंजीपति बनाने का काम कर रही है। बोले- यदि अतिशीघ्र ही गन्ना किसानों के बकाये का भुगतान नहीं किया गया तब सपा किसानों के हितों के लिए सड़क पर उतरकर संघर्ष करने को तैयार है। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Wq2p2wAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬