[dausa] - बिजली ना स्टाफ, ये कैसा छात्रावास!

  |   Dausanews

खेड़ला. अमरपुर गांव में देवनारायण योजना के तहत निर्मित बालिका छात्रावास प्रशासन की अनदेखी के चलते दुर्दशा का शिकार हो रहा है। छात्रावास में 200 बालिकाओं का प्रवेश दिया गया, लेकिन इसमें में नियमित स्टाफ को नहीं लगाया गया। संविदा पर कर्मचारी रखकर संचालन किया जा रहा है। वहीं पर्याप्त बिजली नहीं आने के कारण छात्रावास में रात के समय बालिकाएं नहीं रुक रही हैं। मजबूरन शाम के समय बालिकाओं को घर भेजना पड़ रहा है।

कक्षा 9 से 12 तक संचालित इस छात्रावास के निर्माण में करीब 10 करोड़ रुपए खर्च किए गए।बिजली डिमांड नोटिस जमा करा दिया, लेकिन बिजली निगम की लापरवाही के चलते छात्रावास को ग्रामीण फीडर से जोड़ा गया। इसके चलते छात्रावास में मात्र & घंटे विद्युत सप्लाई हो पा रही है, जबकि छात्रावास को 24 घंटे विद्युत सप्लाई के लिए डिमांड नोटिस राशि जमा हुई है। रात को बिजली नहीं आने के कारण बालिकाएं अपने घरों को जाने को मजबूर हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Y0Lo0AAA

📲 Get Dausa News on Whatsapp 💬