[dehradun] - दादा को खंडित मूर्तियां प्रवाहित करता देख रहा मासूम, तभी गंगा के तेज प्रभाव में बह गया

  |   Dehradunnews

टांडा भागमल निवासी एक बुजुर्ग अपने सात वर्षीय पोते के साथ खंडित मूर्तियां प्रवाहित करने गांव से डेढ़ किलोमीटर दूर घाट पर पहुंचे थे।

पोता गंगा किनारे ढांग पर खड़े होकर दादा को मूर्तियां प्रवाहित करते देख रहा था। इसी बीच ढांग ढह गई और मासूम गंगा के तेज बहाव में बह गया। आसपास के ग्रामीणों और पुलिस ने बच्चे की काफी तलाश की, लेकिन कहीं पता नहीं चल पाया।

लक्सर कोतवाली क्षेत्र के टांडा भागमल निवासी महावीर कश्यप के घर में पूजा-पाठ करते समय पूजा के दरबार में लगाई गई देवी-देवताओं की कुछ मूर्तियां खंडित हो गई थी। रविवार को महावीर ने अपने पिता रामपाल को खंडित मूर्तियों को गंगा में प्रवाहित करने के लिए कहा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/EHnpRgAA

📲 Get Dehradun News on Whatsapp 💬