[jharkhand] - सरकारी स्कूलों की बदली तस्वीर, सुनहरे भविष्य के सपने पूरे होने की जगी उम्मीद

  |   Jharkhandnews

गुमला जिला मुख्यालय पर स्थित सीनियर सेकेंडरी विद्यालय लंबे समय से उदासीनता का शिकार हो रहा था, लेकिन पिछले कुछ सालों से विद्यालय अपने खोये अस्तित्व को फिर से पाने की कोशिशों में जुटा है. साल 1939 में बने इस विद्यालय में शिक्षा विभाग की उदासीनता के चलते छात्रों की संख्या काफी कम हो गई थी, लेकिन एक बार फिर से स्कूल में सभी सुविधाएं बहाल होने से यहां का माहौल बदल गया है.

सीनियर सेकेंडरी विद्यालय गुमला में एक से दस तक की कक्षाओं के साथ ही ग्यारहवीं और बारहवीं में भी छात्रों की संख्या बढ़ रही हैं. विद्यालय के छात्रों का मानना है कि सरकारी स्कूल में व्यवस्थाओं का अभाव होने के कारण कोई भी पढ़ना नहीं चाहता था, लेकिन अब बच्चों को काफी अच्छा माहौल मिल रहा है, जिसके कारण उन्हें यहां पढ़ाई करना न केवल अच्छा लगता है, बल्कि सुनहरे भविष्य के सपने भी पूरे होने की उम्मीद है. ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/epazAwAA

📲 Get Jharkhand News on Whatsapp 💬