[lalitpur] - समस्या: पाली

  |   Lalitpurnews

कच्ची सड़क बनी शिक्षा और चिकित्सा में बाधक

ललितपुर। डिजिटल इंडिया, शाइनिंग भारत के इस दौर में जिले में एक ऐसा गांव रमपुरा भी है, जहां चिकित्सा के लिए मरीज लोगों के कंधों पर जाने को मजबूर हैं। कच्ची कीचड़ युक्त पगडंडी पर स्कूली बच्चे पीठ पर बस्ते, हाथों में जूते चप्पल लेकर बड़ी मुश्किलों के बीच अपने स्कूल पहुंचते हैं। कच्ची सड़क से मुक्ति मिले इसके लिए यहां के लोग शासन-प्रशासन को कई बार अवगत करा चुके हैं। गौरतलब है कि एक दशक पूर्व यहां सड़क निर्माण के नाम पर मिट्टी बिछाई गई थी।

बिरधा ब्लॉक अंतर्गत ग्राम पंचायत करमरा के मगरपुर रमपुरा के लोगों को अब तक पक्की सड़क नहीं मिली। इससे आजादी के इतने बरस बीत जाने के बाद लोग नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं। लोग बताते हैं कि एक दशक पूर्व जिला पंचायत से यहां सड़क निर्माण का कार्य शुरू हुआ था, जिसमें रमपुरा से पाली तक सड़क निर्माण के लिए नपाई कर मिट्टी डाली गई थी। बीच में पड़ने वाली कुछ पुलियों का भी निर्माण कराया गया था। फिर मालूम नहीं ऐसा कौन सा रोड़ा आ अटका कि सड़क निर्माण को रोक दिया गया। इसके बाद से पक्की सड़क के लिए ग्रामीण अपने स्तर से लगातार मांग उठाते आ रहे हैं, लेकिन उनकी मन की मुराद अब तक पूरी नहीं हुई । ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jjGz_QAA

📲 Get Lalitpur News on Whatsapp 💬