[nagda] - यहां का विकास... दो किलोमीटर पटरी पर चलकर पहुंचते है स्कूल व अस्तपताल

  |   Nagdanews

निर्भयसिंह राठौर/सुमराखेड़ा. तहसील मुख्यालय से 11 किमी की दूरी पर स्थित गांव हत्याखेड़ी एक ऐसा गांव है जहां बारिश के समय आम रास्ते का संपर्क टूट जाता है, जिससे इस गांव के विद्यार्थियों सहित ग्रामीणों को रेलवे लाइन पर करीब दो किमी तक पैदल चलकर सुमराखेड़ा पहुंचते है। ऐसे में अगर कोई हादसा हो जाए तो? इस गांव में आठवीं तक स्कूल है, इसके बाद बच्चों को उच्च शिक्षा लेने के लिए तराना और कायथा पढऩे जाना पड़ता है। ऐसे में यह विद्यार्थी अपनी जान जोखिम में डालकर शिक्षा का पाठ पढऩे जाते है। यह एक दिन की बात नहीं है पूरी बारिश ही यही स्थिति रहती है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ak1eWgAA

📲 Get Nagda News on Whatsapp 💬