[pilibhit] - पचास पार के बेसिक शिक्षकों की नौकरी खतरे में

  |   Pilibhitnews

पचास के ऊपर के शिक्षकों की नौकरी पर लटकी तलवार

कार्यदक्षता को लेकर होगी स्क्रीनिंग, बीईओ से रिपोर्ट तलब

अमर उजाला ब्यूरो

पीलीभीत। योगी सरकार की नई व्यवस्था के तहत बेसिक शिक्षा विभाग में भी 50 साल की उम्र पार चुके नॉन परफॉर्मर शिक्षकों और कर्मचारियों की छंटनी की जाएगी। इसको लेकर शासन से जारी आदेश के बाद बीएसए ने स्थानीय स्तर पर कवायद शुरू कर दी है। उन्होंने यह कार्रवाई 30 जुलाई तक पूरी करने के आदेश दिए हैं। बीएसए ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों से इस बाबत रिपोर्ट तलब की है।

प्रदेश की योगी सरकार बनने के बाद पिछले वर्ष विभिन्न विभागों में अधिकारियों और कर्मचारियों की स्क्रीनिंग कर छंटनी की गई थी। इधर प्रदेश सरकार ने चालू सत्र में सरकारी सेवा में दक्षता सुनिश्चित करने को 50 वर्ष की उम्र पार कर चुके बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षक और शिक्षणेत्तर कर्मियों की भी स्क्रीनिंग करने का निर्णय लिया है। इस स्क्रीनिंग के बाद नॉन परफॉर्मर शिक्षकों व कर्मचारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी जाएगी। इस संबंध में सचिव बेसिक शिक्षा ने बीएसए डॉ. इंद्रजीत प्रजापति को निर्देश जारी किए हैं। इसमें मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी मुख्यालय और खंड शिक्षा अधिकारी विकास खंड को शामिल करते हुए कमेटी गठित करने के निर्देश दिए हैं। यह कमेटी ही स्क्रीनिंग की जिम्मेदार होगी। इधर, शासन के इस आदेश से विभाग में खलबली मच गई है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/9huzUQAA

📲 Get Pilibhit News on Whatsapp 💬