[ranchi] - स्‍कूल-कॉलेजों में जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषाओं की पढ़ाई और शिक्षक-प्राध्‍यापकों की नियुक्ति की मांग

  |   Ranchinews

रांची : राजधानी के मोराहाबादी स्थित आनंद मंगल बैंक्वेट हॉल एदलहातु में जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा को लेकर बैठक हुई. जिसमें राज्य के सभी निजी एवं सरकारी स्‍कूल-कॉलेजों में जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषाओं की पढ़ाई प्रारंभ करने की मांग की गयी.

कार्यक्रम में मौजूद साहित्यकार, कलाकार, भाषाकर्मी, शोधार्थी, छात्र-छात्राओं ने झारखंडी भाषाओं की उपेक्षा पर आवाज बुलंद की. पद्मश्री मुकुंद नायक ने गीत के माध्‍यम से झारखंड की वर्तमान दशा और दिशा को बताया. उन्होंने भाषाई अभियान को आगे बढ़ाने की बात कही.

झारखण्ड में भाषा आंदोलन को खडा करने के लिए एक साझा संगठन 'झारखंडी भाषा परिषद' का गठन किया गया. भाषा परिषद ने राज्य के सभी निजी एवं सरकारी स्‍कूल-कॉलेजों में जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषाओं की पढ़ाई और उसके लिए अलग विभाग शुरू करने की मांग की. इसके साथ ही जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा में प्राध्यापक, सह प्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक का पद सृजन कर अविलंब नियुक्ति की मांग की गयी....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/QSLqSwAA

📲 Get Ranchi News on Whatsapp 💬