[shahdol] - श्रावण माह का पहला सोमवार आज, शिवालयों में लगेगा भक्तों का तांता

  |   Shahdolnews

शहडोल। 30 जुलाई का श्रावण माह का पहला सोमवार पड़ेगा। बाणगंगा स्थित प्राचीन शिव मंदिर सहित शहर भर के देवालयों में भक्तों की भीड़ रहेगी। महिलाएं और युवतियां मनोकामना मांगेंगी और पूरे दिन भोलेनाथ की उपासना कर व्रत करेंगी। विधी विधान से भोलेनाथ का अभिषेक होगा और सोमवार व्रत की कथा होगी। कहा जाता है कि श्रावण सोमवार के व्रत में भगवान शिव और देवी पार्वती की पूजा की जाती है। ये व्रत सूर्योदय से प्रारंभ होकर तीसरे पहर तक किया जाता है। शिव जी की पूजा करने के बाद सोमवार व्रत की कथा सुनी जाती है। सावन के महीने में आने वाले सोमवार के दिनों में शिवजी का व्रत करने के बाद भगवान श्री गणेश, शिवजी, माता पार्वती व नन्दी देव की पूजा की जाती है। धूप दीप जलाकर कपूर से आरती कर महादेव से वर मांगा जाता है। महिलाएं व श्रद्धालु जल, दूध, दही, चीनी, घी, शहद, पंचामृत, बेल पत्र, आक, धतूरा, कमल गट्टा, सुपारी, लौंग, इलायची आदि चढ़ाते हैं। दूभ, जल से भगवान शिव का अभिषेक किया जाता है। सावन सोमवार के दिन उपवास रखने से भगवान अपने भक्तों की मनोकामना पूरी करते हैं। पुजारियों के मुताबिक बेल के वृक्ष को जो भक्त सावन के महिने में पानी या गंगाजल अर्पित करता है, उसे समस्त तीर्थों का फल प्राप्त होता है। सावन माह में सोमवार के व्रत करने से व्यक्ति को सभी तीर्थों के दर्शन करने से भी अधिक पुण्य मिलता है। सावन सोमवार के दिन शहर के विराट मंदिर के अलावा बूढ़ीमाता मंदिर, शारदा मंदिर, खैरमाता, हनुमान मंदिर, गणेश मंदिर, दुर्गा, रेलवे कॉलोनी स्थित शिवमंदिर में धार्मिक अनुष्ठान होंगे। घर-घर में भोलेनाथ की पूजा होगी। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2pFC0AAA

📲 Get Shahdol News on Whatsapp 💬