[shajapur] - किसानों के लिए आफत बन गया सोयाबीन की फसल का ये प्रकोप

  |   Shajapurnews

शाजापुर. इस बार बारिश अच्छी होने से क्षेत्र में सोयाबीन फसल लहलहाती तो दिखाई दे रही है, लेकिन एक माह की हो रही फसल की निगरानी की जरूरत दिखाई देने लगी है। कारण क्षेत्र में कुछ जगह सफेद सूंडी का प्रकोप दिखने लगा है। साथ ही ब्लू बीटल नामक कीट भी चिंता का विषय बनी हुई है। यह कीट फसल को क्षति पहुंचाते हैं। कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को सलाह दी है कि वह सतर्कता बरतें और दवाओं का छिड़काव करें।

जिले मेंं मानसून की मेहरबानी से रिमझिम व झमाझम हुई। खरीफ फसलें गत वर्ष की तुलना में बेहतर स्थिति में हैं। इस बार जिले में 2 लाख 50 हजार हेक्टेयर में खरीफ फसलों की बोवनी हुई है। 2 लाख 45 हजार हेक्टेयर में सोयाबीन, 200 में ज्वार, 2000 में मक्का तथा अरहर, मूंग व उड़द 3 हजार हेक्टेयर में लगी हे। सोयाबीन करीब एक माह की हो गई है। इस समय उसकी सेहत को लेकर विशेष ध्यान रखा जाना आवश्यक है। यह फूल वाली अवस्था में है। कृषि विज्ञान केंद्र गिरवर के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. जीआर अंबावतिया ने बताया घुंसी इलाके में सफेद सूंडी का प्रकोप दिख रहा है। यह कीट फसल की जड़ में लगकर उसे नुकसान पहुंचाता है। जब जड़ कमजोर हो जाती है तो पौधा सूखकर मर जाता है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_MfyFQAA

📲 Get Shajapur News on Whatsapp 💬