[shimla] - टैक्स भरने के बावजूद सड़क नहीं, उठाकर लाने पड़ते हैं मरीज

  |   Shimlanews

शहर का हिस्सा होने के बावजूद टूटीकंडी वार्ड के निचले इलाकों की हालत आज भी पिछड़े गांवों जैसी है। नगर निगम को टैक्स चुकाने के बावजूद इलाके के सैकड़ों लोग सड़क सुविधा से महरूम हैं। पांजड़ी इलाके में तो हालत ऐसी है कि यदि कोई बीमार पड़ जाए तो पीठ पर उठाकर उसे सड़क तक पहुंचाना पड़ता है। उधर, रिड़का गांव में सड़क तो बन चुकी है, लेकिन यहां के लिए न तो कोई बस चलती है और न ही टैक्सी।

महिलाओं और बुजुर्गों को करीब एक किलोमीटर पैदल चलकर आईएसबीटी पहुंचना पड़ता है। खड़ोग और पांजड़ी के दर्जनों घर सीवरेज लाइन से नहीं जुड़े हैं। वार्ड में हाइवे से सटे इलाके में तो लगभग सारी सुविधाएं निगम दे रहा है, लेकिन निचले इलाकों की कोई सुध नहीं लेता। शहर से लाकर बंदर यहां छोड़े जा रहे हैं। ज्यादातर नाले और रास्ते भी खस्ताहाल हैं। रविवार को अमर उजाला की टीम ने वार्ड का दौरा किया तो लोगों ने समस्याओं का अंबार लगा दिया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/JLF86AAA

📲 Get Shimla News on Whatsapp 💬