[sirmour] - सिरमौर में आफत की बारिश,

  |   Sirmournews

मकान ढहे, डेढ़ दर्जन सड़कें बंद, आठ बसें फंसीं

सड़कों पर तेजी से हो रहा भूस्खलन, पत्थर गिरने से बढ़ी परेशानी

अमर उजाला ब्यूरो

नाहन (सिरमौर)। जिले में चार दिन से लगातार हो रही बारिश लोगों के लिए अब आफत बन गई है। बारिश से भूस्खलन जारी है। सड़कों पर पेड़, मलबा और बड़े पत्थर गिरने से आवाजाही ठप हो गई। शनिवार को सिरमौर के विभिन्न रूटों पर एचआरटीसी की आठ बसें फंस गईं। लिहाजा, यात्रियों को भारी दिक्कतें झेलनी पड़ीं। करीब डेढ़ दर्जन सड़कों पर आवाजाही पूरी तरह ठप रही। नदी-नाले उफान हैं। कई जगह बारिश ने भारी तबाही मचाई। उपमंडल संगड़ाह में दो पक्के और दो कच्चे मकान गिर गए हैं। इसके अलावा सात पशुशालाएं ढह गईं, जबकि एक घराट भी पानी के बहाव में बह गया। पच्छाद क्षेत्र के राजगढ़ में भी घरों के गिरने का खतरा बना हुआ है। शनिवार को राजगढ़-टौंडा सड़क पर एक बस फंसी रही। सराहां-देवली टिक्करी में एक, ददाहू-संगडाह सड़क पर दनोई के समीप दो, शिलाई में दो और रामाधौण में भी दो बसें फंसी रहीं। भारी बारिश के कारण शनिवार को हरिपुरधार-रेणुका, राजगढ़-हरिपुरधार, कौटीबौंच-शिलाई, सराहां-चलाना, नाहन-रामाधौण, ददाहू-संगड़ाह, सराहां-देवली टिक्करी, राजगढ़-टौंडा, नौहराधार-पालर, कौलांवालाभूड़-सराहां, कौंथरों-कालाअंब आदि मुख्य सड़कें काफी समय तक बंद रहीं। हालांकि, दोपहर बाद कुछ सड़कों पर आवाजाही बहाल हो पाई।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TetBTQAA

📲 Get Sirmour News on Whatsapp 💬