🤜जैक ने अंतिम बॉल पर छक्का 🏏जड़कर ऑस्ट्रेलिया एक को फाइनल👌 में पहुंचाया

  |   क्रिकेट

भारत में खेले जा रहे क्वाड्रेंगुलर टूर्नामेंट में सोमवार को खेले गए एक महत्वपूर्ण वर्षा से बाधिक मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने ए ने जैक वाइल्डर्मथ नाबाद 62 की ओर से अंतिम बॉल पर लगाए गए छक्के व डकवर्थ लुईस नियम के तहत भारत ए को पांच विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया ए ने टूर्नामेंट के फाइनल में भी प्रवेश कर लिया है। ऐसे में अब 29 अगस्त को होने वाले फाइनल में दोनों टीमें एक बार फिर से आमने-सामने होंगी।

ऑस्ट्रेलिया ए को डकवर्थ लुईस नियम के मुताबकि 40 ओवर में 247 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला था जिसे उसने आखिरी गेंद पर पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की जीत में भले ही उस्मान ख्वाजा ने नाबाद शतकीय पारी( 101) खेली हो, लेकिन टीम को फाइनल में पहुंचाने का श्रेय जैक को ही जाता है।

टीम को अंतिम ओवर में 19 रनों की जरूरत थी और बॉल गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा के हाथों में थी। इस दौरान जैक ने अपनी काबिलियत का परिचय देते हुए कुछ बेहतरी न शॉट लगाकर मैच को रोमांचक बना दिया। आखिरी दो गेंद में टीम को 9 रन बनाने थे। पांचवीं गेंद को जैक ने बाउंड्री के बाहर भेजा तो आखिरी गेंद को लॉग ऑन के बाहर छह रनों के लिए भेज कर टीम को रोमांचक जीत दिला दी।

इससे पहले बारिश से बाधित इस मुकाबले में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंडिया बी ने 6 विकेट पर 276 रन बनाए। इंडिया बी की ओर से भारतीय टीम से बाहर चल रहे मनीष पांडे ने नाबाद 117 रनों की पारी खेली। 109 गेंदों की पारी में मनीष ने सात चौके और 3 छक्के लगाए।

फाइनल में जगह बनाने के लिए ऑस्ट्रेलिया ए को हर हाल में मैच जीतना था और टीम को अच्छी शुरुआत भी मिली, लेकिन गेंदबाजी आक्रमण पर स्पिन गेंदबाजों के आते ही मामला पलट गया। 76 पर कोई विकेट नहीं खोने वाली ऑस्ट्रेलिया 95 पर अपने चार विकेट गंवा चुकी थी। उस दौरान बारिश आ गई और करीब 10 ओवर का खेल धुल गया।

ऑस्ट्रेलिया ए के सामने जीत के लिए 40 ओवर में 247 रनों का लक्ष्य मिला। 155 पर पांचवें विकेट के गिरने पर जैक बल्लेबाजी के लिए आए। उनके आते ही मैच का रुख बदल गया। एक छोर पर टिके उस्मान ख्वाजा ने जैक के साथ छठे विकेट के लिए अटूट 93 रनों की साझेदारी कर टीम को फाइनल में पहुंचा दिया।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/YmLVvAAA

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬