[alwar] - कृष्ण जनमाष्टमी विशेष : अलवर का अट्टा मंदिर, जिसमें स्थित है प्राचीन गुफा, यहां जानें मंदिर का इतिहास

  |   Alwarnews

अलवर. अलवर में कृष्ण भक्ति की परंपरा वर्षो पुरानी है। यहां के पूर्व राजा महाराजा और यहां की प्रजा भगवान कृष्ण की भक्ति की दीवानी र्है। इसी के चलते शहर में अलग अलग रूपों में भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमाएं विराजमान हैं। भगवान श्रीकृष्ण के साथ ही राधा भी विराजमान है। कृष्ण जन्माष्टमी जैसे विशेष अवसरों पर कृष्ण मंदिरों में धार्मिक कार्यक्रम आयेाजित किए जाते हैं। कृष्ण जन्माष्टमी आने में कुछ ही दिन शेष हैं, मंदिरों से लेकर बाजारों तक जन्माष्टमी की तैयारियां शुरु हो गई है।

शहर में मुख्य पोस्ट ऑफिस के सामने स्थित अटटा मंदिर भी ऐतिहासिक मंदिरों में गिना जाता है। यह मंदिर काफी प्राचीन है । मंदिर में बिहारीजी महाराज की छोटे आकार की बहुत ही सुंदर प्रतिमा राधारानी के साथ विराजमान है। मंदिर का संचालन रामानंद संप्रदाय में चलने वाली गुरु परंपरा के अनुसार किया जाता है। वर्तमान में मंदिर में छठी पीढ़ी इस परपंरा को संभाल रही है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/cAGFcQAA

📲 Get Alwar News on Whatsapp 💬