[anuppur] - अंतर्राज्यीय प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक; सुरक्षा और आपराधिक गतिविधियों पर कार्रवाई के लिए बनाए संयुक्त बॉर्डर कम्यूनिकेशन प्लान

  |   Anuppurnews

शांतिपूर्ण विधानसभा चुनाव के लिए अंतर्राज्यीय प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक आयोजित

अनूपपुर। आगामी विधानसभा निर्वाचन को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने एवं भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार सीमावर्ती जिलो में प्रशासनिक एवं पुलिस व्यवस्था में आपसी समन्वय बढ़ाने के उद्देश्य से सेामवार 27 अगस्त को अमरकंटक में अंतर्राज्यीय सीमावर्ती निर्वाचन समन्वय बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आयुक्त शहडोल संभाग जेके जैन, संभागायुक्त बिलासपुर टीसी महावर, आईजी शहडोल आईपी कुलश्रेष्ठ, आईजी बिलासपुर दीपांशु गबरा, डीआईजी शहडोल पीएस उईके, कलेक्टर अनूपपुर अनुग्रह पी, एसपी अनूपपुर तिलक सिंह, कलेक्टर शहडोल अनुभा श्रीवास्तव, एसपी शहडोल कुमार सौरभ, एसपी उमरिया असित यादव, कलेक्टर बिलासपुर पी दयानंद, एसपी बिलासपुर आरिफ़ एच शेख़, कलेक्टर कोरिया नरेंद्र कुमार दुग्गा, एसपी कोरिया विवेक शुक्ला, कलेक्टर डिंडोरी मोहित बूँदस, एसपी डिंडोरी कार्तिकेय के, कलेक्टर मुंगेली डोमन सिंह, एसपी मुंगेली पारुल माथुर उपस्थित रहे। बैठक में सीमावर्ती क्षेत्रों की नाकाबंदी प्लान, चेक पोस्ट निर्धारण, सुरक्षा व्यवस्था, शराब, गांजा, अन्य मादक पदार्थ एवं नक़दी के परिवहन पर नियंत्रण की कार्ययोजना, वाहनों की आवश्यकता, वांटेड अपराधियों की सूची, वल्नरेबल क्षेत्रों का चिन्हांकन एवं संयुक्त मैनपावर डिप्लॉयमेंट प्लान पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में संयुक्त बॉर्डर कम्यूनिकेशन प्लान बनाने के सम्बंध में योजना बनाई गई। कमिश्नर जेके जैन ने कहा बॉर्डर चेक पोस्ट का चिन्हांकन दोनों प्रदेशों की प्रशासनिक एवं पुलिस टीम संयुक्त रूप से करें। क्योंकि बॉर्डर क्षेत्र में वन भूमि की बहुलता है, वन विभाग के अधिकारियों से भी समन्वय आवश्यक है। वन भूमि के रास्तों का अच्छा ज्ञान होने के कारण वन विभाग का भी संयुक्त कम्यूनिकेशन प्लान में शामिल होना आवश्यक है। बैठक में शैडो क्षेत्रों का चिन्हांकन कर वहां टेलीकम्यूनिकेशन की आवश्यक व्यवस्थाएं करने के लिए कार्ययोजना बनाकर वैकल्पिक व्यवस्थाओं की तैयारी करने के लिए कहा गया। आपातकाल में चिकित्सा सुविधाओं के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों में संचालित स्वास्थ्य केंद्रो की जानकारी का हस्तांतरण करने पर सहमति दी गई। आईजी बिलासपुर दीपांशु गबरा ने कहा जि़ला बदर की सूची एवं सम्बंधित कार्रवाई सुनिश्चित कराने के लिए आपसी समन्वय अत्यंत आवश्यक है। आपस में सतत सम्पर्क में रहने पर सारी व्यवस्थाएं सुचारू रूप से हो सकेगी। बैठक में स्थानीय स्तर के फील्ड स्टाफ़ एसडीएम, एसडीओपी, तहसीलदार आदि के बीच बॉर्डर क्षेत्रों में भ्रमण कर समन्वय स्थापित करने की सहमति बनाई गई। बैठक में सभी अधिकारियों ने अपने सम्पर्क साझा किए एवं सतत संपर्क में रहने का आश्वासन दिया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/7ExxcgAA

📲 Get Anuppur News on Whatsapp 💬