[anuppur] - सूखे की आहट या जलसंकट की चेतावनी: सावन बीता भाद माह में भी सोननदी में कमरभर पानी , अंत मानसून पर टिकी सम्भावनाएं

  |   Anuppurnews

लगातार बारिश के बाद भी नदियों का नहीं उठ रहा जलस्तर, तीन माह में ६९६ मिमी बर्षा

अनूपपुर। जिले में मानसून की बारिश के तीन माह बाद अबतक मात्र ६९६.८ मिमी औसत वर्षा का आंकड़ा दर्ज हो सका है। जबकि अबतक सामान्य औसत वर्षा के रूप में ८२८ मिमी बारिश हो जानी चाहिए थी। लेकिन पिछले वर्ष के दर्ज आंकड़ों के साथ मंडरा रही सत्र वर्ष की बारिश के आंकड़ों ने फिर से मौसम विभाग सहित किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीर खींच दी है। जिले की सोन जैसी प्रमुख नदी में कमरभर पानी भी आगामी चंद दिनों उपरांत पानी की जगह रेत ही नजर आने का स्पष्ट संकेत दे रही है। हालंाकि भू-अभिलेख विभाग ने वर्तमान बारिश की बन रही स्थिति पर अंत मानसून से कुछ और बारिश की आशा की है। भू-अभिलेख कार्यालय का कहना है कि मौसम विभाग के अनुसार बारिश का सिस्टम एक्टिव हुआ है। साउथ-ईस्ट झारखंड पर उपरी हवा का दबाव बना हुआ है। जिसमें आगामी कुछ दिनों तक प्रदेश में बने मानसून का असर दिखेगा और अच्छी बारिश होती रहेगी। लेकिन फिलहाल तीन माह बाद भी ६९६.८ मिमी बारिश के दर्ज आंकड़ों में विभाग ने आगामी दिनों कहां कितनी बारिश गिरेगी पर अनिश्चितता जताई है। जबकि जिले में औसत वर्षा का रिकार्ड १३०६ मिमी दर्ज है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/5koGjwAA

📲 Get Anuppur News on Whatsapp 💬