[bulandshahr] - ट्रांसफर हुए लिपिक को दोबारा बुलाने की मांग

  |   Bulandshahrnews

ट्रांसफर हुए लिपिक को दोबारा बुलाने की मांग

बुलंदशहर। जिला महिला अस्पताल में ट्रांसफर हुए लिपिक रिलीव होने के बाद भी अपनी कुर्सी छोड़ने का नाम नहीं ले रहे हैं। सीएमओ ने अस्पताल के दो लिपिकों को कार्यालय से अटैच करने का 20 दिन पूर्व आदेश जारी किया था। चहेते लिपिक की दोबारा तैनाती देने के लिए महिला सीएमएस ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा के निदेशक को पत्र भेजकर मांग की है।

जिला महिला अस्पताल के दो लिपिक बाबूओं का अप्रैल 2017 में प्रोन्नति होने के बाद शासन ने सीएमओ कार्यालय से अटैच कर दिया था। अस्पताल में किसी लिपिक का समायोजन न होने पर दोनों लिपिकों को रिलीव नहीं किया गया। जून 2018 में शासन ने जिला अस्पताल से एक लिपिक का समायोजन कर महिला अस्पताल स्थानांतरण कर दिया था। जानकारी के अनुसार नए लिपिक द्वारा कार्यभार ग्रहण करने के बाद भी दोनो लिपिकों को सीएमओ कार्यालय से अटैच करने के लिए पुन: आदेश दिए गए। इसके बावजूद भी एक लिपिक रिलीव होने के बाद पुन: अपनी कुर्सी पर बैठने के लिए विभागीय अधिकारियों के पास दौड़भाग में जुटा हुआ है। वहीं, दूसरी ओर महिला अस्पताल की सीएमएस ने काम का अधिक भार दिखाकर चहेते लिपिक को समायोजित करने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा के निदेशक को पत्र भेजकर मांग की है। सीएमओ डॉ. केएन तिवारी ने बताया कि महिला अस्पताल के दो लिपिकों का शासन स्तर से कार्यालय के लिए स्थानांतरण हुआ था। अस्पताल के एक लिपिक द्वारा रिलीव होने के 20 दिन बाद भी अभी तक कार्यालय में कार्यभार ग्रहण नहीं किया गया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/lqW16gAA

📲 Get Bulandshahr News on Whatsapp 💬