[champawat] - नरसिंहडांडा-कालूखांड़ सड़क में डामरीकरण की मांग

  |   Champawatnews

चंपावत। विकासखंड चंपावत के नरसिहडांडा-कालूखांड़ सड़क पर डामरीकरण की मांग फिर से उठने लगी है। 15 वर्ष पहले बन चुकी सड़क में बारिश के समय तीन महीने यातायात बंद रहता है। कीचड़ ज्यादा हो जाने से दर्जन भर गांव वाले पैदल ही तीन किमी का सफर तय करते हैं। क्षेत्र के लोगों ने लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता को पत्र लिखकर नवरात्र से पहले डामरीकरण की मांग की है।

मैरोली, कालूखांड़, गरसाड़ी, छाना, आलीचौड़, तोला, बड़पास, कक्सा, बसान, सेलपखा, लधौली के ग्रामीणों के श्रमदान से बनी सड़क पर सफर करना दूभर हो गया है। फूलदेवता मंदिर तक दो साल पहले हो चुके डामरीकरण के बाद अब तीन किमी सड़क में डामरीकरण की मांग उठने लगी है। गांव के सामाजिक कार्यकर्ता कैलाश कलखुड़िया ने क्षेत्र के विकास के लिए सड़क को गुरौली तक लिंक करने की मांग की है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TORX3gAA

📲 Get Champawat News on Whatsapp 💬