[chandigarh] - गलत काम करते, 3-3 घंटे मुर्गा बनाकर रखते, पीठ पर गहरे जख्म, गुरुकुल के बच्चों ने सुनाई आपबीती

  |   Chandigarhnews

कपड़े उतारकर डंडे से पीटते हैं, पीठ पर गहरे नीले जख्म हो गए। तीन-तीन घंटे मुर्गा बनाकर रखते, धमकी देते। छात्रों ने रो-रोकर आपबीती सुनाई तो सभी की आंखें नम हो गईं।

बाल कल्याण समिति के सामने बच्चों ने बयां किया अपना दर्द

रोहतक के गुरुकुल में पांच जूनियर छात्रों के यौन उत्पीड़न मामले की जांच करने के लिए सीडब्ल्यूसी टीम दोपहर दो बजे गुरुकुल पहुंची, लेकिन एक घंटे तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई। सीडब्ल्यूसी चेयरमैन डा. राज सिंह सांगवान के सख्ती करने पर गुरुकुल संस्थापक से मुलाकात हुई। इसके बाद जांच शुरू हुई।

समिति चेयरमैन ने कक्षाओं में जाकर बच्चों से पूछताछ की। स्कूल के सभी बच्चों से सामूहिक तौर पर पूछताछ व काउंसिलिंग की। इस दौरान कई और बच्चों के साथ यौन शोषण किया जाना सामने आया। उन्हें डंडे से पीटने की बात भी पता चली। इसके बाद पीड़ित बच्चों की अलग से काउंसिलिंग की गई। पीड़ित बच्चों ने कई और बच्चों के साथ यौन शोषण की बात कही है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tQ4qxQAA

📲 Get Chandigarh News on Whatsapp 💬