[haridwar] - फैक्ट्री का दूषित पानी पीने से आठ मवेशियों की मौत

  |   Haridwarnews

बहादराबाद। औद्योगिक क्षेत्र सिडकुल की फैक्ट्रियों से निकले दूषित पानी पीने से आठ मवेशियों की मौत हो गई। ग्रामीणों ने प्रशासन से फैक्ट्री पर कार्रवाई और मुआवजा दिलाने की मांग की है।

सिडकुल की ज्यादातर फैक्ट्रियां बिना ट्रीटमेंट के ही अपना केमिकलयुक्त पानी खुले में छोड़ रही हैं। यह पानी आसपास की कृषि भूमि और बरसाती नालों से होकर फसलों और भूजल को नुकसान पहुंचा रहा है। यह पानी पीने से एक साल में ही 16 मवेशियों की मौत हो गई थी। आसपास के गांवों में भूगर्भीय जल दूषित होने की शिकायतें भी लगातार सामने आ रही हैं।

रोशनाबाद में कुछ वन गुर्जरों ने डेरा डाला हुआ है। उनके मवेशी आसपास के खाली मैदानों में घास चरते हैं। गाय चराते हुए जब वन गुर्जर उधर पहुंचे तो मवेशियों को जमीन पर मृत देखकर उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। पता चला कि मवेशियों की मौत फैक्ट्रियों का दूषित जल पीने से हुई है। लोगों ने इस बात पर नाराजगी जताई कि लगातार मवेशियों की मौत होने के बाद भी सिडकुल व जिला प्रशासन फैक्ट्रियों पर नकेल नहीं कस पा रहा है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भी चुप्पी साधे है। मौके पर मौजूद लोगों ने सिडकुल व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर पीड़ितों को मुआवजा दिलाने की मांग की। वन गुर्जर अमीर हमजा और मोहम्मद आलम ने बताया कि उनके परिवारों का गुजर बसर दूध बेचकर ही होता है। सात गाय व एक भैंस मरने से परिवार की रोजी-रोटी पर संकट खड़ा हो गया है। उन्होंने प्रशासन से मुआवजा देने की मांग की है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/fIis4wAA

📲 Get Haridwar News on Whatsapp 💬