[hoshangabad] - आरपीएफ टीआई का कारनामा, 30 किमी रेलवे ट्रेक पर बाइक चलाकर बचाई थीं कई जिंदगियां

  |   Hoshangabadnews

आरपीएफ टीआई सैयद राष्ट्रपति पदक से सम्मानित

पिपरिया। आरपीएफ पोस्ट पिपरिया टीआई सैयद मोहम्मद अहमद को जबलपुर में आयोजित अलंकरण समारोह में महानिरीक्षक आरके मलिक ने राष्ट्रपति पुलिस मेडल से पुरस्कृत किया। इस मौके पर रेल पुलिस के आला अधिकारी उपस्थित रहे। 2017में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने पदक की घोषणा की थी। सोमवार रात जबलपुर नई दिल्ली एक्सप्रेस से सैयद अहमद की वापसी पर रेलवे स्टेशन पहुंच जनप्रतिनिधियों,नागरिको,रेलवे अधिकारियों ने पुष्पहार पहनाकर सैयद अहमद का स्वागत किया।

30 किमी रेल ट्रेक पर बाइक चलाकर यात्रियों की बचाई थी जान

सैयद मोहम्मद अहमद ने ढाई साल पहले हरदा के आगे माचना पुल रेलवे ट्रैक पर कामायनी एक्सप्रेस के दुर्घटना ग्रस्त होने पर जान पर खेल नदी में डूबते यात्रियों की जान बचाई थी। कामायनी के माचना पुल में गिरते ही सैयद अहमद ने ३०किमी रेलवे लाइन के बीच बाइक चलाकर घटना स्थल तक पहुंचे और पानी डूबते लोगों को बचाया था। जान पर खेलकर रेस्क्यू करने के एवज तत्काल एडीजे रेल ने पांच हजार की नगद राशि से सैयद को पुरस्कृत किया था। उसके बाद तत्काल राष्ट्रपति प्रवण मुखर्जी ने सैयद को सराहनीय सेवा मेडल प्रमाण पत्र और मेडल से पुरस्कृत किए जाने की घोषणा की थी। टीआई की इस बहादुरी का सभी ने खुले दिल से वाहवाही की थी। यह पहला मौका था कि जब एक आरपीएफ टीआई ने अपनी जान हथेली पर रखकर बीच ट्रेक पर ३० किमी बाइक चलाई। और कई जिंदगियां भी बचाई थीं। सोमवार रात अहमद की वापसी पर रेलवे स्टेशन पहुंच जनप्रतिनिधियों,नागरिको,रेलवे अधिकारियों ने पुष्पहार पहनाकर सैयद अहमद का स्वागत किया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/VzNULAAA

📲 Get Hoshangabad News on Whatsapp 💬