[jabalpur] - 60 साल से ज्यादा उम्र के छह बेटे, फिर भी मां की आंखों में आंसू

  |   Jabalpurnews

जबलपुर. पति ने फौज में रहकर देश की सेवा की और उसके बाद पूरे सम्मान के साथ जीवन जीया, लेकिन उसके छह बेटों ने 95 वर्षीय वृद्धा मां का जीना मुहाल कर रखा है। संपत्ति को लेकर बेटों के बीच की कलह ने बूढ़ी मां की आंखों के आंसू भी सुखा दिए हैं। झुर्रियों से भरा उदास बेबस चेहरा और लाठी के सहारे पहुंची मां पुलिस कंट्रोल रूम में आलंबन कर्ता-धर्ताओं के सामने फफक पड़ी।

संपत्ति हड़पना चाहता है शादीशुदा बेटा:

कांपते हाथ और आंसुओं से डबडबाई आंखें बूढ़ी मां की व्यथा और परेशानी को बिना कुछ कहे ही बयां कर रहे थे। पोलीपाथर निवासी वीआर नायडू ने बताया, उसकी आठ संतानों में से छह बेटे हैं। दो बेटियों की शादी हो चुकी है। उसके नाम पर बादशाह हलवाई मंदिर के पास छह दुकानें और मकान हैं। मां की पीड़ा यह है कि उसके दो बेटों की ही शादी हो सकी है। इधर उनका चौथे नंबर का बेटा पूरी जायदाद हड़पना चाहता है। मां की ख्वाहिश है कि उसके जीते-जी जायदाद का बंटवारा हो जाए तो वह चैन की सांस ले पाएंगी।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/zpeGDQAA

📲 Get Jabalpur News on Whatsapp 💬