[jaipur] - घायल समय पर अस्पताल पहुंचें, तो बचेंगी हर साल 7 हजार जानें

  |   Jaipurnews

जयपुर. अब घायल को अस्पताल पहुंचाने वाले सद्नागरिक से पूछताछ सुप्रीम कोर्ट की अवमानना है लेकिन आमजन आज भी कोर्ट व पुलिस के चक्कर में फंसने के डर से घायलों की मदद के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। ऐसे में अकेले राजस्थान में ही हर साल 5 से 7 हजार लोगों की जान जा रही है।

दुर्घटना के शिकार घायलों के समय पर अस्पताल नहीं पहुंचने के कारण बड़ी तादाद में हो रही मौतों को रोकने के लिए केन्द्र सरकार 3 साल पहले गाइडलाइन जारी कर चुकी है। इसके तहत अब घायल को अस्पताल पहुंचाने वाले से न पुलिस पूछताछ कर सकती है, न ही अस्पताल ऐसे सद्नागरिकों पर एडमिशन फीस देने का दवाब बना सकते हैं। यह गाइडलाइन घायलों की मदद के लिए आगे आने से हिचकने वालों की सुविधा बन सकती है लेकिन जागरुकता नहीं होने के कारण लोग घायलों की मदद के लिए आगे नहीं आ रहे हैं और घायल मदद के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। चिकित्सकों की मानें तो घायल समय पर अस्पताल पहुंच जाएं तो दुर्घटना के शिकार होने वाले 50 से 70 प्रतिशत लोगों की जान बच सकती है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1AQ5VAAA

📲 Get Jaipur News on Whatsapp 💬