[jalore] - गौरव पथ निर्माण में अनियमितता पर एइएन का जवाब, मैं क्या कर सकता हूं, काम ठेकेदार ने किया है

  |   Jalorenews

जालोर. मुख्यमंत्री के आगमन की तैयारियों में जुटे प्रशासन को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। लोगों से समझाइश करते हुए मामला शांत करने की कोशिश में जुटे प्रशासनिक अधिकारियों की चिंता तब और बढ़ जाती है जब सम्बंधित विभाग के अधिकारी मौके पर ही ग्रामीणों को टका सा जवाब देकर और भड़का देते हैं। कुछ ऐसा ही मामला सोमवार को बागरा में सामने आया। यहां मुख्यमंत्री की आमसभा प्रस्तावित है। उपखंड अधिकारी राजेंद्रसिंह सिसोदिया सोमवार को तैयारियों के सिलसिले में जायजा लेने पहुंचे। लोगों ने ग्रामीण गौरव पथ में हुई अनियमितता एवं अधिकारियों के रवैये की शिकायत करते हुए एसडीएम के समक्ष रोष जताया। कहा कि निर्माण के समय से ही पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को बार-बार अवगत करवाया गया, लेकिन न तो काम रुकवाया और न ही सुधार किया गया। गौरव पथ की नालियां नाकारा साबित हो रही है। एसडीएम ने मौके पर मौजूद सहायक अभियंता अनिल माथुर से पूछा तो जवाब मिला कि काम तो ठेकेदार ने किया है, मैं क्या कर सकता हूं। इतना सुनना था कि ग्रामीण भड़क गए तथा मामले में मुख्यमंत्री से शिकायत करने की भी चेतावनी दी। एसडीएम ने किसी तरह मामले को शांत करने का प्रयास किया, लेकिन लोगों का रोष कम नहीं हुआ। उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले नारणावास में आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम में भी एसडीएम के सामने के ही पीडब्ल्यूडी एइएन ग्रामीणों को टका सा जवाब दे चुके हैं। जनसुनवाई में ग्रामीणों ने बागरा लिंक रोड की मरमत को लेकर मांग रखी थी, लेकिन एइएन ने दो टूक शब्दों में कहा कि बजट नहीं है। इससे लोगों में रोष फैल गया, लेकिन तब भी एसडीएम ने किसी तरह लोगों को शांत करवाया था।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/6F7yRgAA

📲 Get Jalore News on Whatsapp 💬