[jodhpur] - खाद्य जिंसों को नहीं मिल रही पहचान

  |   Jodhpurnews

जोधपुर।

केन्द सरकार की अधीनस्थ वालिंटियरी स्कीम के तहत खाद्य जिंसों की शुद्धता व गुणवत्ता की जांच के लिए एगमार्क प्रयोगशालाएं स्थापित की गई। जोधपुर में संभाग स्तर पर विजयाराजे सिंधिया कृषि उपज मंडी प्रांगण में एगमार्क प्रयोगशाला स्थापित की गई, जहा खाद्य जिंसों (मसालें, आटा तथा घी) आदि की सेम्पल की जांच की जाती है, जिनकी शुद्धता व उच्च गुणवत्ता के आधार पर एगमार्क चिन्ह दिया जाता है। एगमार्क चिन्ह देने वाली प्रयोगशाला पिछले लंबे समय से बंद पड़ी है। संभाग स्तर पर चलने वाली प्रयोगशाला के बंद होने से शहर की निजी एगमार्क प्रयोगशालाओं को बढ़ावा मिल रहा है। राजस्थान में कुल ७ एगमार्क प्रयोगशालाएं है। जो जोधपुर के अलावा जयपुर, बीकानेर, गंगानगर, भिवाई, भरतपुर व अलवर में स्थापित की गई है। जोधपुर स्थित प्रयोगशाला के अंतर्गत जोधपुर सहित पाली, नागोर, सिरोही, जैसलमेर व बाड़मेर क्षेत्र आता है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/wZCedgAA

📲 Get Jodhpur News on Whatsapp 💬