[katni] - अब शिशुओं को छू भी नहीं सकेगा एड्स, जिला अस्पताल को मिली जांच की खास सौगात

  |   Katninews

कटनी. यदि किसी भी महिला को प्रसव के दौरान एचआइवी का संक्रमण पाया जाता था, या फिर पति को एड्स है तो ऐसी परिस्थिति में संक्रमण से शिशु को बचाने के लिए गर्भवती महिलाओं व उनके परिजनों को 200 किलोमीटर का सफर तय कर डीबीएस (ड्राय ब्लड स्पॉट) जांच के लिए जबलपुर भटकना पड़ता था। या फिर अन्य महानगरों का रुख करना पड़ता था, अब पिछले तीन माह से यह सुविधा जिला अस्पताल के सेंटर को भी मिल गई है। डायरेक्ट ब्लड स्पॉट की रिपोर्ट 7 दिनों में मिल जाती है। संक्रमण की स्थिति पर मां को एचआइवी पॉजिटिव होने पर उपचार की प्रक्रिया शुरू कर दी जाती है, ताकि बच्चे में संक्रमण न फैल सके। बच्चे के जन्म के 6 सप्ताह के बाद बच्चे में एड्स के संक्रमण को पता लगाने के लिए जांच होती है, ताकि उसमें निगेटिव व पॉजिटिव होने का पता चल सके।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/u-vi0gAA

📲 Get Katni News on Whatsapp 💬