[lalitpur] - लवकुश जयंती मनाई पाली पेज

  |   Lalitpurnews

धूमधाम से मनाया लव कुश महोत्सव

गंगाराम मंदिर परिसर में कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

डोंगराखुर्द (ललितपुर)। विंंध्यांचल पर्वत की शृंखला में गंगा राम मंदिर पर कुशवाहा समाज द्वारा सोमवार को प्रत्येक वर्ष भांति इस वर्ष भी भगवान लव कुश जन्मोत्सव बड़ी उत्साह धूमधाम से मनाया है, जिसमें सैकड़ों की संख्या में भीड़ रही नृत्य सैरा व कलाकारों द्वारा भजन-कीर्तन का आयोजन किया गया और भगवान लव कुश की पूजा अर्चना गाजे बाजे के साथ की गई। लोगों ने बड़े उत्साहपूर्वक बढ़कर चढ़कर भाग लिया और छोटी छोटी बालिकाओं ने अतिथियों का स्वागत गीत गाकर सम्मान किया कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीकांत कुशवाहा ने की और उन्होंने ने बताया कि कुशवाहा समाज भगवान लव कुश को अपना आराध्य देव मानती हैं। इसलिए श्रावण मास में मानते हैं और कहा कि जैसे माता सीता जी ने जंगल में रहकर लव कुश को अच्छी शिक्षा दीक्षा दी उसी प्रकार हर माता को अपने अपने बच्चों को अच्छे संस्कार देने चाहिए। गंगा राम मंदिर विंंध्यांचल पर्वत के घने जंगल में स्थित है, जो काफी प्राचीन काल है और बरसात के दिनों में चारों ओर हरियाली छाई हुई है, जिसका मनोहारी व सुहावना दृश्य दिखाई देता है। कार्यक्रम का संचालन कर रहे रवि कुशवाहा ने कहां की माता सीता को राजा रामचंद्र द्वारा वनवास दिया गया। लेकिन वनवास में दो बालकों को जन्म दिया और शिक्षा दी जिन्होंने अपने पिता राम का अश्वमेघ यज्ञ का घोड़ा पकड़कर सिद्ध कर दिया कि माता द्वारा दी गई शिक्षा से बच्चों का भविष्य बन जाता है और संसार में कुछ कर दिखाने के काबिल हो जाते हैं। इस दौरान श्रीकांत कुशवाहा, चंद्र दीप रावत, प्रभू गंधर्व, भरत लोधी, मनोज कुशवाहा, दीपमाला कुशवाहा, नीलेश कुशवाहा, जगन्नाथ कुशवाहा और माखनलाल मोजूद रहे

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/wt4qrgAA

📲 Get Lalitpur News on Whatsapp 💬