[nawada] - जीवन से ज्यादा शौक को तरजीह देने में तबाह हो रही युवाओं की जिंदगी

  |   Nawadanews

तंबाकू व सिगरेट जैसे मादक पदार्थों से सेहत पर पड़ रहा बुरा असर

सदर अस्पताल में धूम्रपान के शिकार लोगों का नहीं है कोई आंकड़ा

नवादा : धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है, यह हर लोग जानते हैं, बावजूद लोग इस लत का शिकार जानबूझ कर हो रहे हैं. पिछले ढाई सालों से बिहार में शराबबंदी लागू है फिर भी शराब की बिक्री हो रही है. लेकिन, जिस स्तर से धूम्रपान सेहत को नुकसान पहुंचा रहा है, शायद उतना शराब से नुकसान नहीं होता होगा. शराब पीनेवाले अधिक से अधिक नशे में बेहोश होने तक ही शराब पी सकता है. परंतु, धूम्रपान एक ऐसी लत है, जो लोग दिन-रात इस शिकार होते हैं़ इसमें कोई लिमिट नहीं है. यही वजह है कि इसका असर इंसानों को मौत के मुंह में सीधा धकेल दे रहा है. यहां धूम्रपान करने की लत भी लोगों में अजीब है. तंबाकू के अलावा सिगरेट एक शौक बन गया है. लेकिन, नाबालिग बच्चों के अंदर जो धूम्रपान सेवन का शौक चढ़ा है, वह रोंगटे खड़े कर देने जैसा है....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/IpHOQAAA

📲 Get Nawada News on Whatsapp 💬