[pali] - गौरव यात्रा: सरकार से उम्मीद, छात्रों को नसीब हो छत, पूरी हो शिक्षकों की कमी

  |   Palinews

पाली। जिले में प्रारंभिक शिक्षा विभाग के ढांचे में सुधार की जरूरत है। प्रारंभिक शिक्षा विभाग के अधीन संचालित 19 स्कूलें भवनविहीन चल रही है। इतना ही नहीं, तीन स्कूलों के लिए तो जमीन भी उपलब्ध नहीं है। कई स्कूलों में छात्रों के अनुपात के मुकाबले शिक्षकों की संख्या बेहद कम है। ऐसे में शिक्षण व्यवस्था प्रभावित होना लाजमी है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पाली आगमन से विद्यार्थियों को छत नसीब होने की उम्मीद जगी है।

जिले में ये पद खाली

माध्यमिक शिक्षा

प्रिंसीपल -06

प्रधानाध्यापक -29

व्याख्याता -203

शिक्षक सैकण्ड ग्रेड -549

शिक्षक तृतीय श्रेणी लेवल 1- 556

शिक्षक द्वितीय श्रेणी लेवल 2- 77

प्रारंभिक शिक्षा

शिक्षकए सैकण्ड ग्रेड -178...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/z-AUwwAA

📲 Get Pali News on Whatsapp 💬