[rohtak] - कलानौर

  |   Rohtaknews

आधे घंटे तक दर्द से कराहता रहा मरीज, न एंबूलेंस मिली न डॉक्टर,

2- अस्पताल के मेन गेट पर आराम फरमाता कुत्ता

3- घटना स्थल पर कार चालक के साथ हाथापाई करते लोग

कलानौर। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज की लाख कोशिशों के बाद भी हरियाणा के सरकारी अस्पतालों की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार नही हो पा रहा है। इसका ताजा उदाहरण रविवार को कलानौर के नागरिक अस्पताल में देखने को मिला। पहले तो निगाना मोड़ पर एक कार और बाइक की टक्कर में खैरड़ी निवासी धर्मवीर और उसका बेटा रोहित घायल हो गए। घायल पिता-पुत्र को एंबुलेंस की सुविधा तक नहीं मिली। 108 पर फोन करने के बाद जवाब मिला कि एंबुलेंस रोहतक गई हुई है। लोगों ने उन्हें प्राइवेट वाहन से पास के सरकारी अस्पताल में उपचार के लिए भिजवाया। यहां भी अस्पताल में न कोई चिकित्सक मिला और न ही कोई कर्मचारी। अस्पताल के मेन गेट के अंदर प्रवेश द्वार पर कुत्ते आराम फरमा रहे थे। इमरजेंसी सुनसान पड़ी थी। घायल बच्चा करीब आधे घंटे तक दर्द से कराहता रहा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/aIGYRgAA

📲 Get Rohtak News on Whatsapp 💬