[rohtak] - गुरुकुल में यौन उत्पीड़न

  |   Rohtaknews

सुबह पांच मिनट देरी से उठने या शाम में एक मिनट देरी से आने पर होती है डंडों से पिटाई, तीन घंटे बनाया जाता है मुर्गा, 30 ने छोड़ा गुरुकुल

-गुरुकुल में बच्चों से यौन उत्पीड़न मामले की छानबीन करने पहुंची बाल कल्याण समिति के सामने बच्चों ने बयां किया अपना दर्द

-बच्चे बोले, त्योहार पर छुट्टी नहीं, मोबाइल रखने नहीं देते, कार्यालय से घर फोन करें तो पांच मिनट से ज्यादा बात नहीं करने देते

रोहतक। गुरुकुल में बात-बात पर पिटाई होती है। छोटी-छोटी गलती पर बड़ी मार सहनी पड़ती है। सुबह पांच मिनट देरी से उठने या शाम में एक मिनट देरी से आने पर कपड़े उतार कर पीठ व उससे निचले हिस्स पर बांस के डंडों से मारा जाता है। यह सब आम है। यही नहीं 20-20 डंडे मारने के बाद लॉन में सफाई का काम कराते हैं। यह दर्द है गुरुकुल के विद्यार्थियों का। सोमवार को सीडब्ल्यूसी ने बच्चों की काउंसिलिंग की तो ये बातें सामने आईं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ynw6AQAA

📲 Get Rohtak News on Whatsapp 💬