एससी-एसटी एक्ट: सवर्णों का 🇮🇳भारत बंद आज, एमपी के 18 जिलों 😲में 144 लागू्, बिहार के आरा में रोकी 🚃ट्रेन

  |   समाचार / Biharnews

एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के खिलाफ सवर्णों के करीब 35 संगठनों ने गुरुवार को भारत बंद का ऐलान किया है। भारत बंद के मद्देनदर सुरक्षा व्यवस्था के जबरदस्त इंतजाम किए गए हैं। सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में मध्य प्रदेश है। वहीं बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान में प्रशासन ने एहतियाती कदम उठाए हैं। मध्यप्रदेश के सभी जिलों में अलर्ट जारी कर दिया है, इसके साथ ही 18 जिलों में धारा 144 लागू लगाई गई है। पड़ोसी राज्य राजस्थान में भी बंद को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया गया है।

बंद के मद्देनजर एमपी में सभी स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। सीबीएसई और एमपी शिक्षा मंडल ने छुट्टी का ऐलान किया है। हिंसा की आशंका के मद्देनजर सुबह 10 से शाम 4 बजे तक पेट्रोल पंप भी बंद करने का एलान किया गया है। सबसे ज्यादा असर वाले मध्यप्रदेश में पुलिस की 34 अतिरिक्त बटालियन तैनात की गई है।देश के अलग-अलग राज्यों में भारत बंद का असर दिखना शुरू हो गया है.

इधर, बिहार के आरा में सवर्णों ने आरा रेलवे स्टेशन के पास लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को रोक दिया गया है। मधुबनी में सवर्ण आंदोलनकारियों ने एनएच-105 पर जाम लगा दिया है. लोग केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कर रहे हैं। छपरा में सवर्णों ने एनएच-19 पर जाम लगा दिया है। बड़ी संख्या में लोग मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर सड़कों पर उतरे हैं।बिहार के लखीसराय जिले में लोगों ने एनएच-80 को जाम कर दिया है।

बंद को लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमारा मध्यप्रदेश शांति का टापू है, वह पूरे मध्यप्रदेश की जनता से प्रार्थना करते हैं कि इस शांति को किसी की नजर ना लग जाए। हर नागरिक के लिए उनके दिल के द्वार खुले हुए हैं।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 20 मार्च को एससी/एसटी एक्ट में बड़ा बदलाव करते हुए कहा था कि इसके अंतर्गत नामजद आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए संबंधित वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की मंजूरी अनिवार्य होगी। इसका देशभर में एससी-एसटी के लोगों ने विरोध करते हुए भारत बंद किया था।अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से आने वाले बीजेपी सांसदों ने भी विरोध में आवाज उठाई थी और अपनी ही सरकार से कहा था कि सरकार अध्यादेश लाकर कानून को पूर्ववत लागू करे। जिसके बाद मोदी सरकार ने एससी/एसटी एक्ट को पूर्ववत लागू करने के लिए संसोधन विधेयक लोकसभा और राज्यसभा से पास कराया। अब इसके विरोध में सवर्ण वर्ग ने आवाज उठानी शुरू कर दी है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/r8LmtwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬